दूसरी बार एमएलए बने केतन इनामदार ने पहले भी उठाई थी आवाज

वडोदरा/गुजरात, हार्दीक हरसोरा : वडोदरा जिले की सावली विधानसभा सीट से भाजपा विधायक केतन इनामदार ने इस्तीफा दे दिया। उन्होंने अपने मत क्षेत्र में विकास कार्य नहीं होने तथा मंत्री व उच्च अधिकारियों के उन्हें नजरअंदाज किए जाने का कारण बताते हुए विधायक पद से त्यागपत्र दिया है।
दूसरी बार बने थे विधायक वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में इनामदार दूसरी बार भाजपा की ओर से विधायक चुने गए थे। इससे पहले वर्ष 2012 में वे निर्दलीय विधायक के रूप में पहली बार विधानसभा पहुंचे थे। बाद में वे भाजपा में शामिल हो गए थे। पहले भी उठाई थी आवाज इससे पहले जून 2018 में भी इनामदार सहित दो अन्य विधायकों-मधु श्रीवास्तव व योगेश पटेल (अब मंत्री) ने अंसतोष की बात को सार्वजनिक किया था। तब कहा गया था कि उच्च अधिकारी इन विधायकों की बातों को नहीं सुनते हैं। साथ ही यह भी कहा था कि सरकार का अपने अधिकारियों पर कोई नियंत्रण नहीं है।

Share This Post