कुरेलिया में पिंजरे में कैद हुआ तेन्दुआ

सूरत/गुजरात, हार्दिक हरसोरा : वांसदा. कुरेलिया समेत आसपास के गांवों में कई दिनों से भय का पर्याय बना तेन्दुआ पिंजरे में कैद हो गया। इसके बाद से ग्रामीणों ने राहत की सांस ली है। वांसदा पूर्व वन विभाग के अनुसार तीन चार दिन से तेन्दुआ दिखने के बाद से लोग भयग्रस्त थे। कुछ दिन पहले इसी क्षेत्र के बारताड़ गांव में एक किसान भी तेन्दुए के हमले में घायल हो गया था। इसे देखते हुए वन विभाग ने पिंजरा लगाया था। इसमें शनिवार सुबह मादा तेन्दुआ कैद हो गई। जिसकी उम्र करीब तीन साल की है। इसकी सूचना मिलने के बाद उसे देखने के लिए गांव वालों को भीड़ जमा हो गई। पिंजरे में कैद तेन्दुए को देखकर लोगों ने राहत की सांस ली।

Share This Post