मौसम ने ली करवट, तपती जमीन पर गिरी राहत की बूंदे

जयपुर, विकास शर्मा : दिनभर तपती धूप के बाद शुक्रवार शाम को मौसम ने अचानक करवट ली। राजधानी जयपुर समेत प्रदेश के कई इलाकों में झमाझम बारिश हुई। जयपुर में शाम चार बजे बाद अचानक तेज बारिश होने लगी जिससे मौसम सुहाना हो गया। जयपुर के अलावा झालावाड़ में भी अच्छी बारिश हुई। इससे पिछले कई दिनों से तपती धूप से परेशान लोगों को राहत मिली। हालांकि इस बारिश ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है। इन दिनों खेतों में उड़द, मक्का, सोयाबीन की कटाई हो रही है ऐसे में फसलों के काली पडऩे व दाने तड़कने की आशंका है। वैसे इस बारिश का कारण बंगाल की खाड़ी में तूफानी चक्रवात बनना बताया जा रहा है। मौसम वैज्ञानिकों ने बंगाल की खाड़ी में पैदा हुए चक्रवात के चलते शुक्रवार से पूर्वी राजस्थान में कुछ स्थानों पर तेज बारिश की आशंका जाहिर की है। मौसम विभाग ने इसके लिए ऑरेंज अलर्ट भी जारी किया है। यह बरसात मानसून की अंतिम बारिश हो सकती है। वैसे इसी माह लगातार तीन चार दिन तक भारी बारिश का दौर चला था। वैज्ञानिकों का मानना है कि एक बार फिर बारिश का सिलसिला बना रह सकता है। बंगाल की खाड़ी में पिछले कई दिन से मौसम में बदलाव आ रहा था। हवाओं का रुख बदलने से खाड़ी में डिप्रेशन बना हुआ है जो गुरुवार रात को चक्रवात में बदल गया। इसके असर से राजस्थान में भी कल से तेज हवाओं को दौर बना हुआ है। साथ ही शुक्रवार को अचानक से बादलों की आवाजाही भी बढ़ी जिनसे तेज बारिश भी हुई। चक्रवात की दिशा देश के पश्चिमी और उत्तरी-पश्चिमी हिस्सों में है। ओडिशा व आंध्रप्रदेश से होते हुए मध्यप्रदेश के रास्ते राजस्थान में प्रवेश करेगा। मौसम विभाग ने कई इलाकों में तेज हवाओं के साथ भारी बरसात की चेतावनी दी है। शहर में कई जगह हुई बारिश राजधानी जयपुर में छितराई हुई बारिश हुई लेकिन इससे मौसम खुशगवार हो गया। गर्मी से परेशान लोगों के लिए छुट्टी का दिन और भी सुहाना बन गया। देर शाम लोग घूमने निकल पड़े।

Share This Post

Post Comment