जैन प्रथा संथारा पर रोक नहीं- सुप्रीम कोर्ट

बीकानेर, राजस्थान/वरिष्ठ नागरिकः बीकानेर की रहने वाली 82 साल की वृद्ध संथारा पर है। बदनी देवी के नाम की वृद्ध महिला के 4 पुत्र और 1 पुत्री है। उन्होंने 46 दिन से भोजन त्याग रखा है। दिन में सिर्फ कुछ चम्मच पानी पीती है। जैन धर्म के अनुसार मनुष्य अन्न, जल त्याग करके मृत्यु को प्राप्त होता है, इससे मोक्ष की प्राप्ति होती है इससे मोक्ष की प्राप्ति होती है। जबकि राजस्थान हाईकोर्ट में 2006 में इसके खिलाफ दायर याचिका में कहा गया था कि संथारा की आढ़ में लोग बूढ़े-बुजुर्गों की देख-रेख नहीं करते और समाज के साथ मिलकर उनको संथारा लेने पर मजबूर कर देते है।

Share This Post

Post Comment