चालक रहित विमान के बाद सूक्ष्म विमान पुष्पक तैयार

नई दिल्ली। चालक रहित विमान के बाद अब भारत में इसकी अगली कड़ी के तहत सूक्ष्म वायु वाहन पुष्पक, गोल्डेन हाक, ब्लैक काइट तैयार किया गया है और अब इस सूक्ष्म विमान का परीक्षण सीएसआईआर एनएएल परिसर में अनुसंधान सुरंग में किया जा रहा है।
नेशनल एयरोस्पेस लेबोरेटरीज (एनएएल) में मुख्य वैज्ञानिक डॉ. जे.एस. माथुर ने कहा कि भारत में सूक्ष्म वायु वाहन पर राष्ट्रीय कार्यक्रम (एनपी-एमआईसीएवी) को रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) और भारत सरकार का विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग संयुक्त रूप से करता है और इसमें वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) भी सहयोग कर रहा है।
उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम के तहत स्थिर पंखी वाले सूक्ष्य वायु वाहन (एमएवी) पुष्पक, ब्लैक काईट, गोल्डेन हाक का विकास किया गया। इन सूक्ष्म वायु वाहनों का आकार 300 से 450 मिलीमीटर, वजन 300 ग्राम और उड़ान का दायरा दो किलोमीटर तक है और यह 30 मिनट तक उड़ान भर सकता है।
माथुर ने कहा कि इनके विशेष परीक्षण के लिए सीएसआईआर..एनएएल परिसर में अनुसंधान सुरंग तैयार की गई है जो भारत में अपनी तरह की पहली अनुसंधान सुरंग है। अधिकारी ने बताया कि इन एमएवी का प्रदर्शन आईटीबीपी, सीआरपीएफ, पंजाब पुलिस, एनडीआरएफ, आईडीए आदि के समक्ष किया गया है।

Share This Post

Post Comment