गुजरात और कर्नाटक पुलिस यहां तलाशती रही, उधर नित्यानंद ने एक द्वीप पर बसा लिया नया देश ‘कैलासा’

राजकोट/गुजरात, हार्दिक हरसोरा : विवादित बाबा नित्यानंद दक्षिण अमेरिका में है और उसने वहां एक द्वीप खरीदकर उसे एक देश घोषित कर दिया है। इस देश का नाम कैलासा रखा गया है। हालांकि इस किसी भी जानकारी की पुष्टि नहीं हुई है। नित्यानंद को यहां गुजरात और कर्नाटक की पुलिस तलाश रही है। उस पर दुष्कर्म और अपहरण के आरोप हैं।

यहां गुजरात और कर्नाटक पुलिस उसे तलाशती रही, लेकिन वह बिना पासपोर्ट के भाग निकला और दुनिया के नक्शे पर एक नया देश बना दिया। हम बात कर रहे हैं अपहरण, दुष्कर्म और तमाम किस्म के अपराधों के आरोपी विवादित बाबा नित्यानंद की। खबर है कि उसने त्रिनिदाद और टोबेगो में एक द्वीप खरीद कर उसे देश घोषित कर दिया है। इस नए देश का नाम कैलासा रखा गया है।

कर्नाटक में उस पर दुष्कर्म का मामला दर्ज है, गुजरात में अपहरण और बच्चों के शोषण का मामला दर्ज है। उसका पासपोर्ट एक्सपायर हो चुका है, दो बड़े राज्यों की पुलिस उसे तलाश रही है। इस बाबा का नाम नित्यानंद है और खबर है कि वह न सिर्फ देश छोड़कर भाग चुका है बल्कि दक्षिण अमेरिका में अपना नया ठिकाना भी बना लिया है।

इस स्वयंभू बाबा नित्यानंद के बारे में खबर आई है कि उसने दक्षिण अमेरिकी महाद्वीप में त्रिनिदाद और टोबैगो के पास इक्वाडोर के पास एक द्वीप पर अपना नया देश बसा लिया है। जानकारी के मुताबिक उसने इस देश का नाम कैलासा रखा है। सूत्र बता रहे हैं कि वह नेपाल के रास्ते इक्वाडोर भागा था। लेकिन इन रिपोर्ट्स की कोई पुष्टि नहीं हुई है।

नित्यानंद ने इस नए देश की वेबसाइट भी बनाई है। इस वेबसाइट पर दावा किया गया है. कैलासा बिना सीमाओं का देश है जिसे दुनियाभर से बेदखल हिंदुओं ने बसाया है। वेबसाइट पर कैलासा को महानतम हिंदू राष्ट्र बताया गया है।

गौरतलब है कि गुजरात पुलिस ने बीती 21 नवंबर को बताया था कि नित्यानंद देश छोड़कर भाग गया है। उधर कर्नाटक पुलिस के मुताबिक, नित्यानंद 2018 के अंत में जमानत का फायदा उठाते हुए देश से भाग गया था। उसका पासपोर्ट सितंबर 2018 में खत्म हो चुका है।

Share This Post

Post Comment