हैदराबाद की होनहार बेटी, परिवार 2-3 महीने में करना चाहता था शादी, वहशी दरिंदों ने ‘सपनों’ को कर दिया खाक

हैदराबाद/नगर संवाददाता : हैदराबाद में पशु चिकित्सक के साथ हुई दरिंदगी की घटना से देशभर में गुस्सा है। सड़क से लेकर संसद तक आरोपियों को इस दरिंदगी की खौफनाक सजा देने की मांग की जा रही है। इस बीच पीड़िता के परिवार न्यूज चैनल आज तक से अपने दर्द को बयां किया।
पीड़िता के पिता ने कहा कि उनकी बेटी काफी होनहार थी। वह 14 घंटे तक पढ़ाई करती थी। वह पीजी करना चाहती थी। 2-3 महीने में उसकी शादी की योजना थी, लेकिन उन्हें नहीं पता था कि वहशी दरिंदे उनकी बेटी के सपनों को आग के हवाले कर देंगे। पिता ने कहा कि बेटी की चाहत को पूरा करना हमारा फर्ज था।
पिता ने समाचार चैनल पर कहा कि न्याय व्यवस्था लचर होने से गुस्सा बढ़ेगा। ऐसे अपराधों के दोषी बचेंगेए तो घटनाएं और बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि लड़कों को संस्कार देना भी जरूरी है। पिता ने बताया कि घटना के अगले दिन 10 बजे उनकी बेटी का शव मिला। स्कूल.कॉलेजों में जागरूकता जरूरी है। पुलिस को जागरूक और सतर्क रहना जरूरी है।
तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद के शमशाबाद की निवासी महिला पशु चिकित्सक के साथ शहर के बाहर शादनगर के चतनपल्ली पुल के पास 4 लोगों ने मिलकर सामूहिक दुष्कर्म किया और बाद में उनकी हत्या कर दी। शव को भी जलाने की कोशिश की थी। शमशाबाद टोल प्लाजा पर स्कूटी को पार्क करने के दौरान आरोपियों ने चिकित्सक को देखा और शराब के नशे में यह दरिंदगी की।

Share This Post

Post Comment