टोल रोड़ों पर पशु-पक्षियों से होने वाली दुर्घटनाओं का जिम्मेवार कौन ?

सिरसा, पकंज माहेश्वरी : टोल रोड़ों पर पशु-पक्षियों से होने वाली दुर्घटनाओं का जिम्मेवार कौन? यह जवाब दे केन्द्र सरकार ! यह सवाल माहेश्वरी युवा संगठन कालांवाली के प्रधान पंकज माहेश्वरी समाजसेवी नवीन गर्ग मोहित गर्ग ने उठाया। कहा कि मैं हर रोज़ सैंकड़ों जानें टोल रोड़ों की अनियमितताओं के कारण हो रही हैं। पंकज महेश्वरी ने यह भी कहा कि केन्द्र सरकार को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि टोल रोड़ो पर हर दिन पशु-पक्षियों से होने वाली दुर्घटनाओं की जिम्मेवारी टोल ठेकेदारों या नैशनल हाइवे ऑथेरिटी दोनों में से किसकी रहेगी। नवीन गर्ग मोहित गर्ग ने कहा कि सिरसा की हद में मीरपुर गाँव व खैरेकां हनुमान मंदिर के पास बहुत से लोगों को अकाल मृत्यु का शिकार होना पड़ा तथा आज तक सैंकड़ों गाडि़यां भी क्षतिग्रस्त हो चुकी हैं परन्तु इतना सब कुछ होने के पश्चात भी नैशनल हाइवे ऑथेरिटी ने इस बात को कभी भी गहराई से नहीं लिया जबकि ऐसे दुर्घटना स्थलों को चिन्हित कर वहां पर पुख्ता इंतजाम किए जाने चाहियें। पकंज माहेश्वरी ने कहा कि नैशनल हाइवे ऑथेरिटी टोल ठेकेदारों के माध्यम से केवल मात्र लोगों से टोल वसूलने के इलावा कोई गंभीरता नहीं दिखा रही उन्होंने यह भी कहा कि केन्द्र व राज्य सरकार वाहन मालिकों से लाखों रूपये टैक्स के रूप में वसूलने के पश्चात भी बेहतर रोड़ सुविधा देने के बजाय टोल रोड़ों के माध्यम से आमजन को लूट रही है जिसका हम सब को खुलकर विरोध करना चाहिये। नवीन गर्ग मोहित गर्ग ने यह भी कहा कि देश में जहां-जहां जिला प्रशासन ने कैटल फ्री घोषित किया हुआ है उस जि़ले में आम सड़कों पर पशुओं से होने वाली दुर्घटनाओं के मुआवजे की जिम्मेदारी भी उस क्षेत्र के खंड अधिकारी की सुनिश्चित करनी चाहिये तभी हमारे देश में दुर्घटनाओं के आंकड़ों में कमी हो पायेगी।

Share This Post

Post Comment