गझधरबांध, खार दांडा, सांताकुझ की सभी जगह की झोपड़ियों को स्लेम डिक्लेरेशन किया

मुंबई, छाया संगेकर : गझधरबांध, खार दांडा, सांताकुझ की सभी जगह की झोपड़ियों को स्लेम डिक्लेरेशन किया है। एसआरए स्कीम होते हुए भी प्राइवेट बिल्डर विकसित करना चाहते है उसने अपने मनमानी से डेवलपर्स कार्यकारणी बनाई है ओर वो कार्यकर्ता वहां के झोपड़ीवासियों को गुमराह कर रहे है उन बेचारे पुराने रहवासियों को एन/एक्स आर, एसआरए के बारे में कुछ भी जानकारी नहीं है वहां के डेव्हलोपर/कार्यकर्ता उन्हें गुमराह करके पात्र को अपात्र कर रहे है ओर उनकी जगह हड़प कर बेचना चाहते है। 25 मई 2018 को मीटिंग हुई। इससे सभी रहवासियो को पता चला यह गोलमाल कर रहे है तो सभी रहवासी भड़क उठे उस वक्त कुछ भी हो सकता था लेकिन मैं एक पत्रकार होने के नाते (छाया संगेकर) उन्हें समझाया ओर होनी होते हुए उसे टाल दिया। हम सभी रहवासी यही चाहते हे कि हमें एसआरए स्कीम तहत म्हाडा का डेव्हलपर्स चाहिए ओर अच्छी तरह से डेव्हलपमेंट होनी चाहिए वरना भविष्य में कुछ भी हो सकता है इसीलिए हम यह मीडिया के जरिए पेश कर रहे हे। सरकार इस पर ध्यान देकर हमारा इंसाफ करें।

Share This Post

Post Comment