ग्राम स्वराज में तकनीकी विकास व आधुनिक संचार जरुरी : धर्मेन्द्र

संतोष कुमार, समस्तीपुर, बिहार: ग्राम स्वराज में तकनीकी विकास की आवश्कता हैं । आधुनिक संचार सुविधाओं से पूर्ण होकर ही गाँव विकसित हो सकते हैं । उक्त बातें समस्तीपुर जिले के दलसिंहसराय स्थित आर बी कालेज में पीजी इतिहास विभाग छात्र कैबिनेट की ओर से गुरुवार को ‘ ग्राम स्वराज की प्रासंगिकता ‘ विषयक सेमिनार को सम्बोधित करते हुए एल एन एम यू के डा धर्मेंद्र कुवर ने कही । प्रो अमरेश शांडिल्य ने कहा कि सभ्यता का विकास गाँवों से ही शुरु होता हैं । एम यू पटना के प्रो दामोदर सिंह ने भी अपने विचार रखते हुए वर्तमान परिपेक्ष्य में ग्राम स्वराज के विकास पर बल दिया । कालेज प्रभारी प्राचार्य डा महेन्द्र झा की अध्यक्षता में आयोजित सेमिनार का आगत अतिथियों ने दीप प्रज्ज्वलित कर उदघाटन किया । इतिहास विभागाध्यक्ष डा संजय झा ने विषय प्रवेश कराते हुए ग्राम स्वराज की परिकल्पना को मूलत: गांधी दर्शन व उनके सिद्धांतो की उपज बताया ।मौके पर डा वी सी जयपुरियार , डा मकबूल अहमद, डा प्रतिभा पटेल , डा एम बी वर्मा समेत छात्र संघ के मो इमरान , तनु प्रिया , मो अरसद, मोना चौधरी, नेहा कुमारी, रूपक कौशल आदि मौजूद थे । धन्यवाद ज्ञापन मोहन कुमार ने किया ।

Share This Post

Post Comment