पश्चिम बंगाल में ममता को मात देने के लिए बीजेपी का मुस्लिम सम्मेलन

कोलकाता, पश्चिम बंगाल/नगर संवाददाताः अगले साल होने वाले आम चुनाव के लिए बीजेपी ने कमर कस ली है। एक ओर जहां चुनाव में मैदान मारने के लिए बीजेपी लाल किले पर महायज्ञ करना चाहती है तो वहीं पश्चिम बंगाल में अलग ही तस्वीर देखने को मिल रही है। पश्चिम बंगाल में मुस्लिम वोटरों की तादाद को देखते हुए पार्टी राजधानी कोलकाता में गुरुवार को अल्पसंख्यक सम्मेलन कर रही हैं। इस कार्यक्रम में पश्चिम बंगाल के बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष और वरिष्‍ठ नेता मुकुल राय शामिल होंगे और लोगों को संबोधित भी करेंगे। बता दें कि पश्चिम बंगाल की सियासत में मुस्लिम वोटर हमेशा अहम रहे हैं। सूबे में करीब 30 प्रतिशत मुस्लिम आबादी है और ये किसी भी पार्टी का खेल बना या बिगाड़ सकते है। इसी के मद्देनजर बीजेपी, मुस्लिम समाज का समर्थन हासिल करने में जुटी है। बीजेपी ने राज्य में पहला मुस्लिम सम्मेलन नवंबर में किया था और अब दो महीने के भीतर ही दूसरा सम्मेलन हो रहा है। हाल ही में तीन तलाक के खिलाफ याचिकाकर्ता इशरत जहां और उनकी वकील नाजिया इलाही खान भी बीजेपी में शामिल हुए। इन दोनों के साथ 150 मुस्लिम महिलाओं ने भी पार्टी का दामन थामा। वहीं, राज्य के सत्तारूढ़ दल तृणमूल कांग्रेस ने मुसलमानों से बीजेपी के झांसे में नहीं आने की अपील की हैं। पश्चिम बंगाल के मुसलमानों का एक बड़ा तबका ममता बनर्जी का समर्थन करता हैं। पिछले विधानसभा चुनावों में भी सूबे में टीएमसी की सरकार बनाने में मुस्लिम वोटरों ने अहम् भुमिका निभाई थी।

Share This Post

Post Comment