डेराबस्सी डी.ए.वी.सिनियर सेकेंडरी स्कूल में विक्की पंडित की मौत

नई दिल्ली/रामप्रकाश सिंहः प्रदुम्न की मौत के बाद सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भी अधिकांश स्कूलों में कोर्ट के आदेश काम पालन नहीं हो रहा है। इनको कोर्ट का कोई डर नहीं है, क्योंकि​ सरकार इनके ऊपर कोई कार्यवाही नहीं करती। स्कूल में आज तक सीसीटीवी कैमरे भी नहीं लगा। स्कूल की छत टुटी पड़ी है, जो लकड़ी की आलमारी बच्चे के ऊपर गिरा था उसमें क्लैम्प भी नहीं लगा था। अगर क्लैम्प लगा होता तो आलमारी नहीं गिरी होती। बच्चे को सिर फूटने के बाद भी स्कूल से कोई हस्पताल नहीं ले गया।स्कूल के बच्चों ने अपने बाइक से हस्पताल पहुंचाएं। ये घटना 24-11-2017 की है । डेराबस्सी हस्पताल की लापरवाही इतना ज्यादा है कि बच्चा अभी जिंदा था और उसे फ्रीज में रखवा दिया ।जब बच्चे के भाई ने बोला की बच्चे को देखा है तो जब बच्चे निकाला तो वो जिंदा था। इतना होने के वावजूद भी पुलिस ने स्कूल के खिलाफ कार्यवाही कर रही हैं और नहीं हस्पताल के ही खिलाफ। बड़े दुख के साथ कहना पड़ रहा है मुझे कि जो भी कानून हैं वो सिर्फ गरीब के लिए है। अमीर के लिए नहीं है।

Share This Post

Post Comment