मेट्रो किराया मामले में केजरीवाल ने केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी को लिखा पत्र

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मेट्रो किराया बढ़ोतरी मामले में केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी को पत्र लिखा है। केजरीवाल ने पत्र में मेट्रो किराया बढ़ोतरी की जांच के लिए विशेषज्ञ कमेटी गठित किए जाने की बात मानने पर खुशी जाहिर की है। साथ ही कमेटी के लिए कुछ सुझाव भी दिए हैं। उधर, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने अतिथि शिक्षकों के मामले में उपराज्यपाल अनिल बैजल को पत्र लिखा है। उन्होंने अतिथि शिक्षकों को नियमित किए जाने के लिए दिल्ली विधानसभा से पास किए गए सर्व शिक्षा अभियान बिल को मंजूरी देने की मांग की है। गौरतलब है कि मेट्रो किराये में बढ़ोतरी के मामले में भाजपा व कांग्रेस के अलावा स्वराज इंडिया ने भी दिल्ली सरकार के रवैये पर सवाल खड़े किए थे। स्वराज इंडिया के प्रदेश अध्यक्ष अनुपम ने कहा था कि किराया वृद्धि के मामले झूठ-तमाशा आधारित राजनीति में आम आदमी पार्टी ने भाजपा व कांग्रेस को पछाड़ दिया है। स्वराज इंडिया ने अरविंद केजरीवाल से चार सवाल भी पूछे थे।

स्वराज इंडिया के अरविंद केजरीवाल से चार सवाल

– डीएमआरसी बोर्ड की जिस बैठक में किराया वृद्धि का फैसला लिया गया, वहां आपने विरोध क्यों नहीं किया? अचानक 29 सितंबर को फैसला जनविरोधी क्यों लगा?
– किस नियम के तहत आपने किराये पर रोक लगाने का आदेश सीधे मेट्रो रेल प्रबंधन को दिया? अगर ऐसा कोई नियम नहीं है तो क्या आपकी ये चिट्ठी सिर्फ राजनीतिक स्टंट थी?
– किराया निर्धारण समिति में आपके प्रतिनिधि अधिकारी ने आपकी राय क्यों नहीं रखी? अगर रखी तो क्या इसका कोई रिकॉर्ड सार्वजनिक कर सकते हैं?
– मेट्रो की ऑडिट कमेटी और अन्य महत्वपूर्ण कमेटियों में दिल्ली सरकार के प्रतिनिधि अनुपस्थित क्यों रहे? पिछले दो साल में दिल्ली मेट्रो की कार्यप्रणाली का स्तर क्या गिरा है?

Share This Post

Post Comment