परिवार अनुशासन की प्रारंभिक पाठशाला: साध्वी सिद्धप्रभा

परिवार अनुशासन की प्रारंभिक पाठशाला: साध्वी सिद्धप्रभा

हिसार, हरियाणा/राजेंद्र अग्रवालः अणुव्रत समिति हिसार की ओर से जारी अणुव्रत उद्बोधन सप्ताह के अंतर्गत मंगलवार को सुशीला भवन स्थित राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में अनुशासन दिवस आयोजित किया गया। साध्वी श्री कंचन कुमारी और मौन साध्वी राजकुमारी जी के सानिध्य में आयोजित इस कार्यक्रम में साध्वी श्री सिद्धप्रभा ने छात्राओं को अनुशासन का पाठ पढ़ाया। समिति के कोषाध्यक्ष विनोद जैन ने कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ किया। वहीं कार्यक्रम की अध्यक्षता समिति के अध्यक्ष राजेंद्र अग्रवाल ने की और मंच संचालन सचिव सतपाल शर्मा ने किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए साध्वी सिद्धप्रभा जी ने कहा कि अनुशासन एक सभ्य समाज की पहचान होती है। इससे जीवन में नियमबद्धता आती है, जो सफलता की कुंजी होती है। विद्यार्थी जीवन में अनुशासन बहुत जरूरी है। परिवार अनुशासन की प्रारंभिक पाठशाला है, वहीं शिक्षक अनुशासन का गहन प्रशिक्षण दे सकते हैं। उन्होंने कहा कि शुद्ध रूप से अनुशासन का पालन करना कड़वा होता है, लेकिन अनुशासन का पालन करने के बाद मिलने वाला फल बहुत मीठा होता है। साध्वी मलयशा जी ने छात्राओं को योगाभ्यास कराते हुए संयमित और स्वस्थ जीवन की कला सिखाई। जिला क्षय रोग केंद्र से डॉ. सुरेश पंवार ने कहा कि अनुशासन से ही हम सफलता पा सकते हैं। अगर विद्यार्थी जीवन में स्वास्थ्य के प्रति अनुशासित नहीं रहे तो, कई प्रकार की बीमारी घर कर लेती है। उन्होंने विशेष तौर पर टीबी के बारे में जागरूक करते हुए इसके लक्षण और उपचार के बारे में विस्तार से जानकारी दी। प्राचार्य राजविरेंद्र सिंह उपप्राचार्या पुष्पा ने आए हुए अतिथियों का स्वागत किया। वहीं समिति की तरफ से उन्हें स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया। इस मौके पर कुंदनलाल गोयल, केके गुप्ता, रविंद्र कुमार, महिला मंडल से योगिता, सरोज, जयश्री, सरोज जैन, अध्यापिका आशा देवी, गीता रानी, प्रीति, सुमनलता, सुरेश, मीना मुंजाल, सुमन राठी, उषा अत्री, अलका, अंजू, भारती, राजपाल, संगीत कुमार, बलजींद्र कौर, शीला देवी, प्रवीन और इला देवी तथा ओमप्रकाश वर्मा सहित अन्य स्टाफ सदस्य मौजूद थे।

Share This Post

Post Comment