बाढ़ पीड़ितों को भी मुआवजा देगी प्रदेश सरकार : योगी आदित्यनाथ

गोरखपुर, उत्तर प्रदेश/नगर संवाददाताः उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अब भरोसा है कि प्रदेश के किसान तथा गरीब की हालत में सुधार आएगा। गोरखपुर में आज उन्होंने किसान ऋण मोचन योजना के तहत पात्रों को प्रमाण पत्र प्रदान किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश का किसान बीते 15 वर्ष से बेहद हताश तथा निराश था। लोकसभा के साथ ही विधानसभा चुनाव के समय सरकार चुनाव के समय हमने सोचा था कि हमारी सरकार आयी तो किसानों का ऋण माफ होगा। प्रदेश की सत्ता संभालने के बाद से ही हमने निर्णय किया था हमारा पहला काम किसानों का ऋण माफ करने का होगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीएम मोदी ने चुनाव के समय हर मुद्दे को उठाया था। प्रधानमंत्री हर जगह पर कहते थे कि देश तभी खुशहाल होगा जब किसान खुशहाल होगा। हमने प्रदेश के किसान तथा गरीब की हालत सुधारने का बीड़ा उठाया है। उन्होंने कहा कि आज नवरात्र का शुभारंभ है, मैं सभी लोगों के उन्नति की कामना करता हूं। प्रदेश की सरकार भविष्य में किसानों के खुशहाली के लिए कई योजनाएं लाएगी। हमारी सरकार में अब प्रदेश में युवाओं और किसानों के लिए कई योजनाएं होंगी। आप सभी लोग प्रदेश के विकास में योगदान दें। प्रदेश सरकार बस्ती और पिपराईच में अत्याधुनिक मिल लगाएगी। उन्होंने कहा कि आधार कार्ड को लेकर कोई परेशानी आ रही हो तो जिलाधिकारी से संपर्क करें। फसल ऋण मोचन योजना में शामिल होने पहुंचे उत्तर प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने कहा है कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में किसानों को प्रदेश सरकार की तरफ से बीज के मिनी किट के पैकेट उपलब्ध कराए जाएंगे। गोरखपुर मंडल में राई-सरसो के 12100 पैकेट बीज वितरित किए जाएंगे। प्रदेश सरकार किसानों के लिए सभी तरह की मदद को तैयार है। 10 लाख क्विंटल बीज का संरक्षण करके रखा गया है। इस साल 10 हजार सोलर पंप देने की तैयारी है। दो से ती हॉर्स पावर के सोलर पंप पर 70 प्रतिशत की सब्सिडी दी जा रही है। 500 सोलर पंप प्रदेश में वितरित किए जाएंगे। फसल ऋण मोचन योजना में शामिल होने पहुंचे प्रदेश के सिंचाई मंत्री और गोरखपुर के प्रभारी मंत्री धर्मपाल सिंह ने कहा कि प्रदेश का किसान अगर प्रभावित होगा तो पूरा प्रदेश प्रभावित होगा। किसान हंसेगा और खुश रहेगा तो पूरा प्रदेश खुशहाल रहेगा। मोदी जी के इस सपने को साकार करने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दिन रात लगे हुए हैं। किसानों के फसल की सिंचाई के लिए प्रदेश सरकार ड्रिप इरीगेशन पर 90 फीसद तक का अनुदान दे रही है। ऐसा पहली बार हुआ है। बाढ़ प्रभावित गांव में भी किसानों को हर संभव मदद के लिए मुख्यमंत्री लगातार लगे हुए हैं। एक लागत मूल्य में अधिक उत्पादन सरकार का सपना है, जिसे पूरा करने का प्रयास लगातार जारी है।  मुख्यमंत्री ने कहा कि गोरखपुर मेरे आने से इतनी अच्छी बारिश हो रही है, मुझे पहले आ जाना चाहिए था। इसके बाद कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने कहा कि कहा कि पानी की कमी लग रही है। आज यहां पर मेरे आने पर मूसलाधार बारिश शुरू हो गयी है।

 

 

 

Share This Post

Post Comment