आईजीआरएस की खराब रैंकिंग से नाराज डीएम ने अधिकारियों को लगाई फटकार

आईजीआरएस की खराब रैंकिंग से नाराज डीएम ने अधिकारियों को लगाई फटकार

गोंड़ा, उत्तर प्रदेश/श्याम बाबूः समेकित शिकायत निवारण प्रणाली आईजीआरएस की महत्वपूर्ण बैठक से बिना सूचना अनुपस्थित रहने पर डीएम जेबी सिंह ने बेसिक शिक्षा अधिकारी संतोषदेव पाण्डेय तथा जिला समाज कल्याण अधिकारी अंजनी वर्मा से स्पष्टीकरण तलब किया है। इसके अलावा आनलाइन शिकायतों के निस्तारण में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों को कड़ी फटकार लगाते हुए एक सप्ताह के भीतर शिकायतों का निस्तारण कर रिपोर्ट देने के आदेश दिए हैं। यह कार्यवाही डीएम जेबी सिंह ने कलेक्ट्रेट सभागार में आईजीआरएस की समीक्षा के दौरान की है। समीक्षा के दौरान ज्ञात हुआ कि कुछ लापरवाह अधिकारियों द्वारा शिकायतों में रूचि न लेने के कारण जनपद गोण्डा प्रदेश में शिकायतों के निस्तारण में सत्तरवें पायदान पर पहंुच गया है। निस्तारण की ख्राब परफारमेन्स से नाराज डीएम ने बैठक में ही जिम्मेदार अधिकारियों से जवाब तलब कर जमकर फटकार लगाई। समीक्षा के दौरान ज्ञात हुआ कि सबसे ज्यादा शिकायतें एसडीएम स्तर पर लम्बित हैं। शिकायतों के निस्तारण में एसडीएम करनैलगंज की स्थिति संतोषजनक पाई गई जबकि सबसे कम निस्तारण एसडीएम तरबगंज द्वारा किया गया। लम्बित शिकायतों में एसडीएम, तहसीलदार व चकबन्दी विभाग के स्तर पर कुल 1441 शिकायतें लम्बित पाई गईं जबकि डीपीआरओ के स्तर पर 189, पीडी के स्तर पर 132, एसपी गोण्डा के स्तर पर 90, आपदा विभाग के स्तर पर 59, सीएमओ स्तर पर 45, बीएसए स्तर पर 44, सीडीओ स्तर पर 40, डीडीओ स्तर पर 41, एक्सईएन विद्युत-1 के स्तर पर 28, एक्सईएन विद्युत-2 के स्तर पर 25, डीएसओ स्तर पर 25, एडीएम स्तर पर 18, आबकारी अधिकारी स्तर पर 15 शिकायतों सहित व अन्य विभागों की कुल 965 शिकायतें निस्तारण हेतु लमिब्त पाई गईं। बैठक में ई-डिस्ट्रिक्ट मेनेजर अमित गुप्ता द्वारा बताया गया कि अधिकारियों द्वारा समय से आख्या नहीं भेजी जा रही है और भेजी गई आख्याओं में निर्धारित प्रारूप का ध्यान नहीं रखा जाता है। इसके अलावा अधिकारियों के बिना हस्ताक्षर के ही आख्या अपलोड कर दी जाती है। जिलाधिकारी ने स्पष्ट चेतावनी दी कि सभी अधिकारी अपने-अपने विभागों की लमिब्त शिकायतों को निस्तारित कर एक सप्ताह के भीतर उन्हें रिपोर्ट सौंप दें अन्यथा कठोर कार्यवाही की जाएगी। बैठक में अपर जिलाधिकारी रत्नाकर मिश्रा, एडिश्नल एसपी हृदयेश कुमार, एसडीएम करनैलगंज अर्चना वर्मा, एसडीएम सदर वी0के0 सिंह, एसडीएम मनकापुर अमरेश कुमार मौर्य, सीएमओ डा0 संतोष श्रीवास्तव, पीडी डीआरडीए वीरपाल, डीआईओएस राम खेलावन वर्मा, एडी बेसिक एमपी सिंह, जिला आबकारी अधिकारी निरंकारनाथ पाण्डेय सहित राजस्व, पुलिस व अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Share This Post

Post Comment