सीआरपीएफ जवान के परिजनों से मिला जदयू का प्रतिनिधिमंडल, दी सांत्वना

सीवान, बिहार/अमित कुमारः आंदर प्रखंड क्षेत्र के भवराजपुर गांव में अरुणाचल प्रदेश में तैनात छुट्टी में घर आ रहे मृत सीआरपीएफ जवान अवधेश बैठा के शोकसंतप्त परिजनों से जदयू के प्रतिनिधिमंडल ने बुधवार को मुलाकात कर सांत्वना दिया।प्रतिनिधिमंडल में जिलाध्यक्ष इन्द्रदेव सिंह पटेल,जदयू के वरिष्ठ नेता अजय सिंह,जिला परिषद अध्यक्ष संगीता देवी,दरौंदा विधायक कविता सिंह, महाराजगंज अनुमंडल प्रतिनिधि बुल्लू सिंह,जदयू तकनीकी प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष मनोज सिंह,युवा जदयू के जिला महासचिव सुशील गुप्ता,किसान प्रकोष्ठ के जिला सचिव रामाकांत पाठक, कुंजबिहारी सिंह,युवा जदयू के दरौंदा प्रखंड अध्यक्ष मनोज सिंह,सिवान सदर प्रखंड के युवा जदयू नेता राजेश कुमार यादव शामिल थे। प्रतिनिधिमंडल में शामिल वरिष्ठ नेताओं ने शोकसंतप्त परिजनों से कहा कि जिलाधिकारी सिवान से मिलकर हर संभव मदद दिलाने का प्रयास किया जायेगा|बताते चलें कि सीवान जिले के आंदर थाना क्षेत्र के भवराजपुर गांव में मंगलवार को सीआरपीएफ के जवान का आठ टुकड़े में कटा शव पहुंचा।जवान का शव आते ही गांव में कोहराम मच गया। सूत्रों ने बताया कि जवान अवधेश बैठा उम्र 40 वर्ष छुट्टी लेकर अपने गांव भवराजपुर आ रहा था।इसी बीच रास्ते में असम के नवगांव रेलवे स्टेशन के समीप अपराधियों ने जवान की हत्या कर उसके शव को आठ टुकडों में काटकर फेंक दिया।पुलिस सूत्रों ने बताया कि अवधेश बैठा अवकाश लेकर 29 जुलाई को चला था। उसने परिवारवालों को फोन पर बताया कि 3 अगस्त को घर पहुंच जाएगा। इधर,तीन दिनों के बाद भी सीआरपीएफ जवान घर नहीं पहुंचा तो घर के सदस्यों ने उसके कम्पनी के अफसरों को फोन कर घर नहीं पहुंचने की जानकारी दी।इस जानकारी के बाद अरुणाचल प्रदेश के खूनसा जिले में तैनात सीआरपीएफ कम्पनी के ऑफिसर हरकत में आ गए ।इसके बाद कई जवानों को अवधेश बैठा को खोजने में लगा दिया गया।खोजबीन के क्रम में 8 अगस्त को नवगांव स्टेशन के पास आठ टुकड़ों में कटे जवान का शव मिला था।

Share This Post

Post Comment