राजनाथ सिंह को खड़गे का जवाब ” राहुल गांधी शहीद के बेटे, डरेंगे नहीं

मुंबई, महाराष्ट्र/राजू सोनीः संसद के मानसून सत्र के दौरान लोकसभा में सदन की कार्यवाही शुरू होते ही पिछले दिनों गुजरात के बनासकांठा में राहुल गांधी के काफिले पर हुए पथराव के मामले में विपक्ष ने जमकर हंगामा किया। हमलावर विपक्ष ने सरकार पर आरोपों की झड़ी लगा दी। विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि राहुल गांधी पर किए जा रहा हमला दुर्भाग्‍यपूर्ण है लेकिन वह इससे डरेंगे नहीं। उन्‍होंने कहा कि राहुल गांधी शहीद के बेटे हैं और उनके डरने का सवाल ही नहीं उठता। खड़गे ने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि एक तरफ तो गोली मारकर जान लेते हैं, यहां तो पत्‍थरबाजी करके उनकी ( राहुल गांधी) जान लेने की कोशिश हो रही है। उन्‍होंने बीजेपी नेता के एक बयान का जिक्र करते हुए कहा कि बीजेपी नेता और सरकार की तरफ से यह वक्‍तव्‍य आया था कि जेएंडके में जो पत्‍थरबाजी हो रही है, वह आतंकवादी कर रहे हैं। खड़गे ने सवाल उठाया कि अब गुजरात में कौन से आतंकी आ गए, क्‍या जम्‍मू और कश्‍मीर से आए? क्‍या बीजेपी के कार्यकर्ता आतंकी बनकर उनकी जान लेना चाहते थे? इसके जवाब में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि राहुल गांधी ने सुरक्षा नियमों का उल्‍लंघन किया है।  उन्होंने जानबूझकर खुद को खतरे में डाला, वह उस जगह रुके जहां उनका कोई कार्यक्रम नहीं था। सिंह ने यह भी कहा कि गुजरात सरकार मामले की जांच कर रही है और एक आरोपी को पकड़ लिया गया है। गृह मंत्री ने आगे कहा कि राहुल गांधी ने अपने पीएसओ की बात मानी, एसपीजी की नहीं और बुलेटप्रूफ गाड़ी की जगह पार्टी की गाड़ी से गए। राजनाथ सिंह ने पत्‍थरबाजी की घटना की निंदा करते हुए कहा कि पत्‍थर किसी पर भी फेंके जाएं वह गलत है। आपको बता दें कि कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी शुक्रवार को गुजरात में बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के दौरे पर गए थे। इस दौरान बनासकांठा में राहुल गांधी को काले झंडे दिखाए गए और उनके काफिले पर पथराव भी हुआ था जिसमें राहुल गांधी की गाड़ी के शीशे फूट गए थे और उनका सुरक्षाकर्मी घायल हो गया था। इसी मामले को कांग्रेस ने लोकसभा में उठाया और गृह मंत्री से बयान की मांग की। गृहमंत्री ने कांग्रेस के आरोपों का जवाब देते हुए राहुल गांधी को आड़े हाथों लिया और कहा कि राहुल गांधी तो वहां (बनासकांठा) आपदा प्रबंधन के लिए गए थे। उन्‍होंने यह भी सवाल उठाया कि राहुल गांधी विदेश दौरों में सुरक्षा लेकर क्‍यों नहीं जाते। कांग्रेस का यह भी कहना है कि राहुल गांधी तो सुरक्षित हैं लेकिन उनका सुरक्षाकर्मी घायल हो गया है। गौरतलब है कि बनासकांठा गुजरात का सबसे अधिक बाढ़ प्रभावित इलाका है। कांग्रेस की तरफ से यह भी कहा गया है कि इस घटना की एक स्‍वर से निंदा की जानी चाहिए।

Share This Post

Post Comment