डीएम ने जनपद के सभी पेट्रोल पम्पों पर सीसीटीवी कैमरे लगवाने के दिए निर्देश

गोंड़ा, उत्तर प्रदेश/श्याम बाबूः जनपद के सभी पेट्रोल पम्पों पर अनिवार्य रूप से सीसीटीवी कैमरे लगवा दिए जाएं तथा नगर क्षेत्र में ऐसे सभी काम्प्लेक्स जिनकी परमिशन पार्किंग के नक्शे के साथ दी गई है, परन्तु वहां पर पार्किंग व्यवस्था न हो ऐसे सभी काम्प्लेक्स मालिकों को तत्काल नोटिस जारी की जाय तथा पन्द्रह दिनों के भीतर पार्किंग व्यवस्था सुनिश्चित न कराने वाले काम्प्लेक्स को सील करने की कार्यवाही की जाय। यह निर्देश डीएम जेबी सिंह ने कलेक्ट्रेट सभागार में यातायात एवं सड़क सुरक्षा की समीक्षा बैठक के दौरान दिए हैं। समीक्षा बैठक में शहर में जाम की समस्या के बारे में पूछने पर सीओ सिटी तथा नगर मजिस्ट्रेट द्वारा बताया गया कि शहर में कई काम्प्लेक्स ऐसे हैं जिनकी परमिशन पार्किंग व्यवस्था के साथ दी गई है, परन्तु मालिकों द्वारा बेसमेन्ट में पार्किंग न बनवाकर दुकानें बनवा दी गई हैं। पार्किंग न होने के कारण काम्प्लेक्स के सामने वाहन बेतरतीब खड़े कर दिए जाते है, जिससे जाम की समस्या उत्पन्न हो जाती है। डीएम श्री सिंह ने नगर मजिस्ट्रेट को निर्देश दिए हैं कि ईओ नगर पालिका एवं सीआ सिटी के साथ संयुक्त निरीक्षण कर ऐसे सभी काम्प्लेक्स मालिकों को नोटिस दें। पन्द्रह दिनो के भीतर पार्किंग की व्यवस्था न कराए जाने पर कॉम्पलेक्स को सील करने की कार्यवाही करें। इसी प्रकार आपराधिक घटनाओं पर रोक लगाने हेतु जनपद के सभी पेट्रोल पम्पों पर अनिवार्य रूप से सीसीटीवी कैमरे लगवाए जाएं। सड़क सुरक्षा एवं यातायात के नियमों के पालन एवं जानकारी तथा हैल्मेट के प्रयोग हेतु लोगों को जागरूक किया जाय। पेट्रोल पम्पों तथा वाहनों पर स्टीकर, पोस्टर आदि लगाए जाएं। जिससे लोग यातायात के नियमों एवं सड़क सुरक्षा के बारे में जान सकें। जनपद के स्कूलों में यातायात जानकारी हेतु नोडल अध्यापकों को नामित किया जाए, जो बच्चों को यातायात के बारे में जानकारी देते रहें। उन्होने आरटीओ को निर्देश दिए कि नामित यातायात नोडल अध्यापकों को जिला स्तर पर कार्यशाला आयोजित कर प्रशिक्षित किया जाय जिससे वे बच्चों को यातायात एवं सड़क सुरक्षा के बारे में जानकारी दे सकें। इसके अलावा उन्होने जनपद में खटारा वाहनों एवं ओवर लोडिंग के खिलाफ अभियान चलाकर प्रभावी कार्यवाही करने के निर्देश दिए है। स्कूली वाहनों पर स्कूल प्रबन्धक एवं प्रधानाचार्य का नाम व मोबाइल नम्बर अंकित किया जाय जिससे तेज गति से चलाए जाने वाले स्कूली वाहनों के  सम्बन्ध में सीधे फोन करके शिकायत दर्ज राई जा सके। उन्होने एक्सईएन पीडब्लूडी को निर्देश दिए कि चिन्हित दुर्घुटना बाहुल्य जगहों पर संकेतक लगवाएं जिससे दुर्घटनाओ को रोका जा सके। उन्होने पुलिस एवं परिवहन विभाग के अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए कि नो इन्ट्री का अनिवार्य रूप से पालन सुनिश्चित कराया जाय। समीक्षा बैठक में अपर जिलाधिकारी त्रिलोकी सिंह, आरटीओ ओ0पी सिंह, नगर मजिस्ट्रेट जगदीश सिंह, एआरटीओ प्रवर्तन राजीव चतुर्वेदी, सीओ सिटी भरत यादव, डीएसओ पूरन सिंह चाौहान, जिला विद्यालय निरीक्षक राम खेलवान वर्मा, न्याय सहायक चन्द्र प्रकाश मिश्रा, टैम्पों एवं अैक्सी यूनियन के पदाधिकारी उपस्थित रहे।

Share This Post

Post Comment