अस्पताल ने नवजात को मृत घोषित किया, अंतिम संस्कार से पहले हो गया जिंदा

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में हैरान कर देने वाली एक घटना सामने आई है। अस्पताल के कर्मचारियों ने एक नवजात को कथित तौर पर मृत घोषित कर दिया, लेकिन अंतिम संस्कार के पहले परिवार के सदस्यों ने उसे जिंदा पाया है। घटना सफदरजंग अस्पताल में हुई जब बदरपुर की एक निवासी ने शिशु को जन्म दिया। अस्पताल के कर्मचारियों को इस बच्चे में कोई हरकत नजर नहीं आई। बच्चे के पिता रोहित ने कहा, डॉक्टर और नर्सिंग कर्मचारियों ने बच्चे को मृत घोषित कर शव को एक पैक में बंद कर उसपर मोहर लगा दी और अंतिम संस्कार के लिए हमें थमा दिया। मां की हालत ठीक नहीं थी तो वह अस्पताल में ही भर्ती है जबकि पिता और परिवार के अन्य सदस्य शव को लेकर घर आए और अंतिम संस्कार की तैयारी शुरू कर दी। कुछ देर बाद रोहित की बहन ने पैक में कुछ हरकत महसूस की और जब उसे खोला गया तो बच्चे की धड़कन चल रही थी और वह हाथ पैर चला रहा था। सफदरजंग अस्पताल प्रशासन ने मामले की जांच का आदेश दिया है।

Share This Post

Post Comment