दरियागंज में रेस्तरां के बाहर विदेशी युवक को पीट-पीटकर मार डाला

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः दरियागंज के कूचा परमानंद इलाके में एक रेस्तरां पर रविवार देर रात खाना लेने को लेकर हुए झगड़े में रेस्तरां के दो कर्मियों ने एक नेपाली युवक की पीट-पीट कर हत्या कर दी। मृतक की पहचान यश बहादुर (45) के रूप में हुई है। पुलिस ने आरोपियों मनोज और लोटन यादव को गिरफ्तार कर लिया है। दरियागंज थाना पुलिस ने यश बहादुर का शव पोस्टमार्टम के लिए लोकनायक अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया है। यश बहादुर बीस साल पहले नेपाल से दिल्ली आया था। वह नेताजी सुभाष मार्ग स्थित दुकान मिलन इलेक्टिक में नौकरी करता था और दरियागंज में ही रह रहा था। रविवार को रात करीब दस बजे शराब पीने के बाद वह कूचा परमानंद स्थित सोना रेस्टोरेंट में खाना लेने आया था। यह रेस्तरां बुजुर्ग रेखा चलाती हैं। यश बहादुर ने कर्मचारियों से कई बार खाना पैक करने के लिए कहा, लेकिन उसके शराब पीने की वजह से रेस्तरां कर्मी ध्यान नहीं दे रहे थे। यश बहादुर को गुस्सा आ गया और उसने लोटन यादव (50) से झगड़ा करना शुरू कर दिया। उसके बाएं हाथ की अंगुली चबा ली। इस पर लोटन व मनोज ने यश बहादुर पर लात-घूसे से वार किया। सीने में पैर से जोर से वार होने पर उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया। एसीपी दरियागंज ललित मोहन व थानाध्यक्ष सतेंद्र मोहन घटनास्थल पर पहुंचे। सोमवार सुबह लोटन व मनोज को पुरानी दिल्ली से दबोच लिया गया।

Share This Post

Post Comment