केदारनाथ में मौसम बना बाधक, रोज रद हो रहीं 70 उड़ानें

रूद्रप्रयाग, उत्तराखंड/नगर संवाददाताः केदारनाथ हेली सेवाओं की राह में मौसम अड़चन डाल रहा है। मौसम खराब होने के कारण प्रतिदिन औसतन 70 उड़ान रद करनी पड़ रही हैं। इससे यात्रियों और हेली सेवा संचालकों के बीच रोज ही टकराव की नौबत बनी रहती है। हेली सेवाओं के सहायक नोडल अधिकारी सुरेंद्र सिंह पंवार ने बताया कि यात्रियों की शिकायतें मिल रही हैं। उन्होंने बताया कि मौसम की दिक्कत है। फिर भी इसके लिए संचालकों से बात की जा रही है कि कैसे यात्रियों की समस्याओं का समाधान किया जाए। दरअसल, इन दिनों केदारनाथ में दोपहर बाद अक्सर मौसम खराब हो रहा है। ऐसे में उड़ान संचालित करना संभव नहीं रहता। वहीं, हेली सेवाओं से दर्शनों के लिए जाने वाले श्रद्धालुओं की संख्या अच्छी खासी है। हेली सेवाओं का संचालन कर रही कंपनियों के अनुसार उनके पास अगले एक सप्ताह की बुकिंग फुल है। इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि बीते चार दिन में चार हजार से ज्यादा यात्री हेलीकॉप्टर से केदारनाथ गए। केदारनाथ के लिए 11 कंपनियां हेली सेवाओं का संचालन कर रही हैं। कंपनियों के हेलीकाप्टर फाटा, नारायणकोटि और सोनप्रयाग से उड़ान भरते हैं। हेलीपैड पर हर रोज यात्रियों की भीड़ लगी है। इनमें से ज्यादातर यात्री ऑन लाइन बुकिंग कराकर पहुंच रहे हैं। केदारनाथ दर्शन से लौटे राजस्थान के दौसा जिले के व्यापारी  55 वर्षीय कृष्ण अवतार सिंह बताते हैं कि वह पत्नी के साथ आए हैं। ऑन लाइन बुकिंग के बावजूद गुरुवार दिनभर उन्हें हैलीपैड पर ही गुजारना पड़ा। शुक्रवार सुबह वह केदारनाथ पहुंच पाए। फाटा में अपनी बारी का इंतजार कर रहे महाराष्ट्र के नांदेड़ जिले से आए सेवानिवृत्त शिक्षक 64 वर्षीय चन्द्रकांत बताते हैं कि हवाई कंपनियों के प्रतिनिधि यह नहीं बता रहे हैं कि उनका नंबर क्यों नहीं आ पा रहा। सुमित ऐविएशन के वरिष्ठ प्रबंधक आएस राणा ने बताया कि औसतन हर रोज 350 से 370 उड़ानें होनी चाहिएं, लेकिन मौसम खराब होने के कारण समस्या आ रही है।

Share This Post

Post Comment