कोर्ट परिसर में कुख्यात बदमाश की गोली मारकर हत्या

पश्चिम चंपारण, बिहार/राकेश कुमारः उत्तर बिहार के कुख्यात अपराधी बब्लू दूबे की आज अज्ञात अपराधियों ने बेतिया कोर्ट परिसर में गोली मारकर हत्या कर दी। यह घटना तब हुई जब एक मुकदमे में पेशी के बाद उक्त कुख्यात अपराधी कोर्ट बिल्डिंग की सीढ़ी से नीचे उतर रहा था. मिली जानकारी के अनुसार दो टीनएजर अपराधियों ने बब्लू दूबे पर हमला कर दिया। अपराधियों ने दूबे को पांच गोली मारी। गोलियों की तड़तड़ाहट से बेतिया कोर्ट परिसर में अफरातफरी मच गयी। इसी बीच अपराधी घटना को अंजाम देने के बाद आराम से फरार हो गये। घटना की सूचना मिलते हीं बेतिया के एसपी विनय कुमार कोर्ट परिसर पहुंचे। खून से लतपथ दूबे को पुलिस अधिकारियों ने अस्पताल पहुंचाया जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। काफी सुरक्षित क्षेत्र समझे जाने वाले कोर्ट परिसर में घटित इस घटना से पूरे बेतिया शहर में सनसनी फैल गयी। अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए जिले की सीमा को सील कर पुलिस वाहन जांच अभियान चला रही है। कुख्यात बब्लू दूबे पूर्वी चंपारण जिले के कल्याणपुर थाना अन्तर्गत सिसवा खरार गांव का रहने वाला था। दूबे के खिलाफ पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण, शिवहर एवं गोपालगंज जिले के कई थानों में करीब छह दर्जन मामले दर्ज हैं। दूबे पर दर्ज अधिकांश मामले रंगदारी, लूट, हत्या एवं अपहरण से संबंधित हैं। अपनी गिरफ्तारी से पूर्व इस कुख्यात अपराधी ने उत्तर बिहार की पुलिस का नाकोदम कर दिया था। वह हर हमेशा नई घटनाओं को अंजाम देकर पुलिस को चुनौती देते रहता था। दूबे की गिरफ्तारी वर्ष 2013 में पूर्वी चंपारण जिले के नेपाल सीमावर्ती आदापुर थाना क्षेत्र से उस समय हुई थी जब वह नेपाल जाने के फिराक में था। फिलहाल वह बेतिया कारा में बंद था। कुख्यात दूबे की हत्या की खबर मिलते ही उसके सिसवा खरार स्थित पैतृक आवास पर मातमी सन्नाटा पसर गया। वहां कोई कुछ बताने को तैयार नहीं है। अब यहां सबसे अहम सवाल यह है कि अति सुरक्षित क्षेत्र में इतनी आसानी से अपराधियों ने घटना को अंजाम दिया और फरार हो गये क्या यह सुरक्षा में चूक का मामला नहीं है। अब पुलिस-प्रशासन को इन सवालों का जवाब खोजना होगा।

Share This Post

Post Comment