गोवा में सरकार न बना पाने की दिग्विजय को मिली सज़ा, सोनिया ने छीन लिया सबकुछ

थाने, महाराष्ट्र/राजू सोनीः कांग्रेस ने पार्टी महासचिव दिग्विजय सिंह को शनिवार को कर्नाटक के साथ ही गोवा के प्रभार से मुक्त कर दिया। गोवा विधानसभा चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरने के बावजूद कांग्रेस सरकार गठन नहीं कर पाई थी। कर्नाटक का प्रभार पार्टी सांसद के.सी. वेणुगोपाल को दे दिया गया है, जिन्हें पार्टी महासचिव नियुक्त किया गया है। ए.चेल्ला कुमार को गोवा का प्रभारी बनाया गया है। पार्टी की ओर से जारी एक बयान के अनुसार, मनिकम टैगोर, पी.सी. विष्णुनाथ, मधु याक्षी गौड़ और सेक सैलजानाथ वेणुगोपाल की मदद करेंगे। बयान में कहा गया है कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कर्नाटक और गोवा मामलों का प्रभार एआईसीसी की नई टीमों को दिया है। कर्नाटक में अगले साल पूर्वार्ध में विधानसभा चुनाव होना है। कांग्रेस राज्य में सत्ता में है। बयान में कहा गया है कि पार्टी महासचिव अमित देशमुख चेल्ला कुमार की मदद करेंगे। बता दें विधानसभा चुनावों के दौरान गोवा में ज्यादा सीटें जीतने के बावजूद वहां कांग्रेस सरकार नहीं बना पाई थी। जिसका जिम्मेदार दिग्विजय को बताया जा रहा था। जिसके बाद अब पार्टी ने ये अहम कदम उठाया है। दिग्विजय ने ट्वीट कर लिखा कि मैं पार्टी और नेहरू गांधी परिवार के प्रति वफादार हूं। आज मैं पार्टी में जो कुछ भी हूं वो सब उन्हीं की वजह से ही है। ट्वीट कर दिग्विजय ने लिखा कि मुझे गोवा और कर्नाटक के कांग्रेस नेताओं के साथ काम कर अच्छा लगा। मैं उनके सहयोग के लिए आभारी हूं। दिग्विजय ने लिखा है कि मैं इस बात से काफी खुश हूं कि अब टीम राहुल जी चुन रहे हैं।

Share This Post

Post Comment