मेरठ में कार सवार बदमाशों ने किया छात्रा का अपहरण

मेरठ, उत्तर प्रदेश/नगर संवाददाताः गुरुवार को मसूरी गांव में कार सवार बदमाशों ने मंदिर से मां के साथ लौट रही छात्र का अपहरण कर लिया। बदमाश मां को धक्का देकर बेटी को कार में डालकर ले गये। पिता ने अज्ञात में अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया है। मसूरी गांव निवासी मोनिका पुत्री संजीव आरजी गर्ल्स कालेज, मेरठ से नर्सरी टीचर ट्रेनिंग (एनटीटी) कोर्स के साथ मवाना से पोस्ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई भी कर रही है। गुरुवार तड़के मोनिका अपनी मां के साथ गांव के बाहर स्थित मंदिर से पूजा करके घर लौट रही थी। इसी दौरान लावड़ की ओर से आई कार उनके पास आकर रुकी। कार में दो युवक सवार थे। कार से उतरे एक युवक ने धक्का देकर मां को गिरा दिया तथा छात्र को कार में डालकर ले गए। मां शोर मचाते हुए घर पहुंची और पति को जानकारी दी। परिजनों ने कंट्रोल रूम को सूचित किया तो 100 डायल पुलिस मौके पर पहुंची। ट्रेनी सीओ विकास जायसवाल भी थाना पुलिस के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। अपहरण करने वालों को तलाश किया गया लेकिन कोई सुराग नहीं लगा। ट्रेनी सीओ ने बताया कि घटना का मुकदमा दर्ज कर लिया है। आरोपियों की तलाश के लिए सर्विलांस की मदद ली जा रही है। जल्द ही अपहर्ताओं को गिरफ्तार कर छात्र को बरामद कर लिया जाएगा। अकेला नहीं छोड़ते थे परिजन: मोनिका को परिवार के लोग कभी अकेला नहीं छोड़ते थे। सीओ ट्रेनी ने बताया कि आरजी कालेज में ट्रेनिंग के दौरान भी परिवार का कोई सदस्य कालेज से बाहर रहता था। घर से बाहर वह अपनी मां या किसी अन्य पारिवारिक सदस्य के साथ ही निकलती थी। अहम बात यह है कि छात्र मोबाइल का प्रयोग भी नहीं करती थी। यानी छात्र पर परिवार की काफी बंदिशें थीं। परिवार का पहरा पुलिस को कई बिंदुओं पर सोचने को मजबूर कर रहा है। पुलिस ने छात्र की एक सहेली से पूछताछ की तो उसने बताया कि कई बार तो उसके पिता कक्षा के अंदर भी आ जाते थे। ये हालात इशारा कर रहे हैं कि अगवा करने के राज से परिवार के लोग भी अनभिज्ञ नहीं है। हालांकि, पुलिस अपहरण और छात्र के दोस्ती सर्किल में उसकी तलाश कर रही है।

Share This Post

Post Comment