चुनाव आयोग ने 4 फरवरी से 8 मार्च के बीच एग्जिट पोल पर लगाया बैन

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः पांच राज्यों में होने जा रहे आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए चुनाव आयोग ने रविवार को बड़ा फैसला लिया है। आयोग ने 4 फरवरी से 8 मार्च तक एग्जिट पोल पर बैन लगा दिया है। चुनाव आयोग ने कहा कि भारत के उन सभी राज्यों में 4 फरवरी से लेकर 8 मार्च के बीच एग्जिट पोल पर प्रतिबंध जारी रहेगा जहां चुनाव होने जा रहे हैं। आयोग के इस फैसले में अमृतसर लोकसभा के उपचुनाव भी शामिल हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जन प्रतिनिधित्व अधिनियम, 1951 के सेक्शन 126ए के प्रावधानों का हवाला देते हुए चुनाव आयोग के प्रवक्ता ने कहा, ‘4 फरवरी 2017 की सुबह 7 बजे से लेकर 8 मार्च शाम 5:30 बजे तक कोई भी एग्जिट पोल नहीं किया जा सकता और ना ही कोई प्रिंट या इलेक्ट्रॉनिक मीडिया और अन्य किसी भी संचार साधन पर एग्जिट पोल को दिखाया जा सकता है।’ चुनाव आयोग के प्रवक्ता के मुताबिक, चुनाव वाले क्षेत्रों में चुनाव से 48 घंटे पहले कोई भी इलेक्ट्रॉनिक मीडिया किसी भी एग्जिट पोल के नतीजे या सर्वेक्षण को भी नहीं दिखाया जा सकेगा। निर्वाचन आयोग ने रविवार को दिल्ली के सीएम केजरीवाल को आयोग पर निशाना बनाने को लेकर कड़ी फटकार लगाई थी। आयोग ने गोवा के अधिकारियों को केजरीवाल के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का निर्देश दिया। आयोग ने मीडिया में जारी खबरों पर संज्ञान लेते हुए केजरीवाल की उन टिप्पणियों को निराधार और अत्यधिक अपमानजनक कहा, जिनमें उन्होंने कहा था कि उन्हें लगता है कि आयोग पीएम कार्यालय के मुताबिक काम कर रहा है। आपको बता दें देश के पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं जिसमें उत्तर प्रदेश, गोवा, उत्तराखंड, पंजाब और मणिपुर शामिल हैं, एक तरफ जहां पंजाब, गोवा में 4 फरवरी को मतदान होना है तो दूसरी तरफ उत्तराखंड में 15 फरवरी, मणिपुर में 4 व 8 मार्च को मतदान हैं। जबकि उत्तर प्रदेश मे सात चरणों में 11 फरवरी, 15 फरवरी, 19 फरवरी, 23 फरवरी, 27 फरवरी, 4 मार्च और 8 मार्च को चुनाव होना है।

Share This Post

Post Comment