भारतीय जवान चंदू चव्हाण को पाकिस्तान ने किया रिहा किया

भारतीय जवान चंदू चव्हाण को पाकिस्तान ने किया रिहा किया

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः गलती से लाइन ऑफ कंट्रोल पार करने वाले भारतीय जवान चंदू बाबूलाल चव्हाण को पाकिस्तान ने रिहा कर दिया है। इससे पहले, पाकिस्तान की ओर से शनिवार को आधिकारिक बयान जारी करके इस बात की घोषणा की गई। पाकिस्तान ने वाघा सीमा पर चंदू को भारत को सौंपा। इंटरसर्विसेज़ पब्लिक रिलेशन यानी आईएसपीआर ने एक विज्ञप्ति जारी कर ये जानकारी दी है कि पाकिस्तान ने भारतीय सैनिक चंदू चव्हाण को भारत को सौंपने का फैसला किया है। विज्ञप्ति में कहा गया है कि भारतीय सैनिक चंदू चव्हाण, जो कि भारत प्रशासित कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर तैनात थे, उनको वाघा बार्डर पर भारतीय अधिकारियों को सौंपा जाएगा। पाकिस्तान ने दावा किया है कि चंदू चव्हाण ने 29 सितंबर 2016 को जानबूझकर नियंत्रण रेखा पार की थी और बाद में पाकिस्तान सेना के सामने आत्मसमर्पण कर दिया था। करीब चार माह बाद चंदू आज वतन वापस लौटेंगे। पहले वह पंजाब के अमृतसर स्थित वाघा बॉर्डर पहुंचेगे। यहां पर उनका स्‍पेशल चेक-अप होगा। आपको बता दें कि चंदू चव्हाण के नियंत्रण रेखा के पार जाने की खबर मीडिया में भारत के कथित सर्जिकल स्ट्राइक के दावे के एक दिन बाद आई थी। आईएसपीआर ने बयान में कहा, “नियंत्रण रेखा और वाघा बॉर्डर पर शांति बनाए रखने के हमारे प्रयासों के तहत सिपाही चंदू बाबूलाल चव्हाण को उसके देश को सौंपने का फैसला किया गया है।”  कुछ दिनों पहले ही भारत सरकार की ओर से जानकारी दी गई थी कि पाकिस्‍तान ने इंडियन आर्मी के जवान चंदू चव्‍हाण को रिहा करने का वादा किया है। चंदू 37 राष्ट्रीय राइफल्स के जवान हैं और महाराष्ट्र के धूले के रहने वाले हैं।

Share This Post

Post Comment