हद हो गई, डॉक्टरों ने ही कर दी गर्भवती महिला की पिटाई, भाग कर बचाई जान

रायपुर, छत्तीसगढ़/मयूर जैनः अंबेडकर अस्पताल में डिलीवरी के लिए आई महिला से डॉक्टरों द्वारा मारपीट का मामला सामने आया है। घटना के बाद महिला वार्ड छोड़कर घर चली गई। मामला शुक्रवार दोपहर करीब ढाई बजे का है। राजेन्द्र नगर निवासी गर्भवती महिला के परिजनों ने डिलीवरी के लिए उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया था। डॉक्टरों ने यहां महिला का सीजेरियन ऑपरेशन किया। इसके बाद उसके पेट में दर्द होने लगा तो उसे अंबेडकर अस्पताल रेफर कर दिया। यहां अस्पताल के प्रसुती विभाग के डॉक्टरों ने महिला के चिल्लाने की वजह से उसे पीटने लगे। इसका जबरदस्त विरोध हुआ। घटना के बाद घबराई महिला वार्ड छोड़कर भाग गई। महिला को मारने का मितानिनों ने किया विरोध डॉक्टरों की पिटाई से परेशान महिला चिल्लाने लगी। इससे अस्पताल में हड़कंप मच गया। घटना की जानकारी मिलते ही अस्पताल की मितानिनों का दल वह एकत्र हो गया और उन्होंने डॉक्टरों का विरोध किया। मितानिनो ने अंबेडकर अस्पताल को घेर लिया और डॉक्टरों के खिलाफ कार्रवाई की मांग भी करने लगीं। इस दौरान करीब 50 से 60 की संख्या में मितानिन का दल वहां मौजूद था। महिला ने नहीं की शिकायत हालांकि पीडि़त महिला या उसके परिजनों ने किसी भी डॉक्टर के खिलाफ शिकायत नहीं की है। इसलिए किसी डॉक्टर के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की है। अंबेडकर अस्पताल पीआरओ शुभ्रा ठाकुर ने बताया कि जिला अस्पताल से अंबेडकर अस्पताल में इलाज के लिए आई महिला ने किसी डॉक्टर के खिलाफ कोई शिकायत नहीं की है। इसलिए किसी के खिलाफ कोई मामला नहीं बनता है।

Share This Post

Post Comment