उरी हमले की जांच में चौंकाने वाला खुलासा

बारामुला, जम्मू-कश्मीर/नगर संवाददाताः जम्मू-कश्मीर के उरी में सेना बेस कैंप पर हुए आतंकी हमले की जांच में सनसनीखेज बात सामने आई है. सेना हेडक्वार्टर पर हमले करने से ठीक एक घंटे पहले ये चार आतंकी पाकिस्तान से भारतीय सीमा में दाखिल हुए थे और चोरी-छिपे गोल्फ कोर्स के रास्ते पहुंचकर फौजियों को कैंप में निशाना बनाया था. बाद में ये सभी आतंकी भारतीय फौज की जवाबी कार्रवाई में मारे गए थे. खबर के मुताबिक, ये आतंकी क्लीन शेव में थे. इसका यह साफ मतलब था कि इन लोगों ने हाल ही में लाइन ऑफ कंट्रोल को क्रॉस किया था. हमले के दौरान इन आतंकियों ने दो तरफ से आर्मी कैंप को निशाना बनाया, ताकि सो रहे फौजी कैंप से बाहर ना आ पाए. इस दौरान कुछ फौजियों को उन्होंने टॉयलेट करने के दौरान निशाना बनाया, जब वे बिल्कुल निहत्थे थे. बाद में सेना के टेंट में ग्रेनेड से हमला कर उसमें आग लगा दी. हालांकि, सेना के मोर्चा संभालते ही ये आतंकी टिक नहीं पाए और केवल 15 मिनट के भीतर ही ढेर हो गए. इस आतंकी हमले में सेना के 18 जवान मारे गए थे और 20 जख्मी हो गए थे.  फिदायीन (आत्मघाती) हमलावर सुबह करीब 5.30 बजे शिविर में घुसे थे.

Share This Post

Post Comment