इंदौर में 1 अक्टूबर से गरीबों को ताजा भोजन मुहैया कराने के मकसद से आहार योजना शुरू

इंदौर, मध्यप्रदेश/नगर संवाददाताः मध्य प्रदेश के इंदौर में 1 अक्टूबर से गरीबों को गरम और ताजा भोजना मुहैया कराने के मकसद से आहार योजना शुरू की जा रही है. इंदौर शहर में सफल होने पर इस योजना को संभाग के सभी जिलों में शुरू किया जाएगा.दरअसल, बुरहानपुर दौरे पर पहुंचे इंदौर कमिश्नर संजय दुबे ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए 1 अक्टूबर से इंदौर में शुरू की जाने वाली आहार योजना की जानकारी दी. उन्होंने कहा गरीबों को गरम और ताजा भोजना मुहैया कराने के लिए ”अन्नम हिताय अन्नम रक्षाए” (आहार) योजना शुरू की जा रही है. इससे गरीबों को भरपेट भोजन मिल पाए गए. वहीं, बर्बाद हो रहे अन्न की रक्षा भी होगी शुरुआत में इंदौर के खजराना गणेश मंदिर, रणजीत हनुमान मंदिर, एमवाय हॉस्पिटल में आहार केंद्र शुरू किए जा रहे हैं. इसमें कोई भी नागरिक जिनके यहां अतिरिक्त अनाज है, वह इन केंद्रों पर दान दे सकता है. साथ ही कोई भी नागरिक अपने पूर्वजों की याद में गरीबों को भोजन कराने की इच्छा रखता है वह एक निश्चित नगद राशि दे सकता है. उसके सामने गरीबों को भोजन तैयार कर दिया जाएगा. इस योजना के तहत शॉपिंग मॉल व स्टोर्स में ऐसी टीन पैक और डिब्बा बंद खाद्य सामग्री जिनकी एक्पाइरी डेट करीब है. उसका प्रचार-प्रसार कर कम कीमत में मुहैया कराई जाएगी. इससे खाद्य सामग्री नष्ट होने से बच जाएगी और जरूरतमंदों को किफायती दामों में खाद्य सामग्री मिल जाएगी. कमिश्नर संजय दुबे के अनुसार, फिलहाल प्रायोगिक रूप से यह योजना इंदौर शहर में शुरू की जा रही है. आने वाले दिनों में जो जिला रुचि दिखाएगा, उसमें भी आहार योजना लागू की जाएगी.

Share This Post

Post Comment