लेखाधिकारी कैलाश प्रसाद मीना को एक हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा

भरतपुर, राजस्थान/नगर संवाददाताः भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने मंगलवार को पहाड़ी कस्बे में उपकोष कार्यालय में रिश्वत लेते सहायक लेखाधिकारी कैलाश प्रसाद मीना को एक हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा है। रिश्वत राशि पेंशन चालू करने की एवज में ली थी। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सरजीत सिंह मीना ने बताया कि पहाड़ी तहसील के गांव नगला आराम सिंह निवासी अकबर के पिता सन्नी की वृद्धावस्था पेंशन वर्ष 2015 से बंद थी। जिसे चालू कराने के लिए अकबर कई दिनों से पहाड़ी उपकोष कार्यालय के चक्कर काट रहा था। पेंशन चालू करने की एवज में सहायक लेखाधिकारी कैलाश मीणा रिश्वत की मांग कर रहा था। अकबर ने मामले में भरतपुर स्थित एसीबी ब्यूरो में शिकायत की। ब्यूरो ने सोमवार को सत्यापन कराया, जिसमें जांच सही मिली। जिस पर ब्यूरो ने मंगलवार शाम को सहायक लेखाधिकारी को पकडऩे के लिए जाल बिछाया। परिवादी अकबर उपकोष कार्यालय पहुंचा और सहायक लेखाधिकारी मीना को एक हजार रुपए दे दिए। एसीबी ने कार्रवाई कर सहायक लेखाधिकारी को पकड़ लिया और रिश्वत राशि उसके कब्जे से बरामद कर ली।

Share This Post

Post Comment