घोस्ट बस्टर गौरव तिवारी की मौत पर सबसे बड़ा रहस्य

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः घोस्ट बस्टर गौरव तिवारी, जिसे ना मौत का खौफ था ना रहस्यमयी ताकतों का। आज उसी की मौत पर सबसे बड़ा रहस्य बनकर रह गई है। ऐसा सस्पेंस जो हर रोज बढ़ता ही जा रहा है। पुलिस की तफ्तीश चंद ऐसे सवालों और सुरागों तक पहुंच कर ठहर गई है जो चंद सवाल उठा रहे हैं और इन सवालों के घेरे में कोई और नहीं गौरव के ही घरवाले हैं। दरअसल गौरव की मौत से जुड़े कई ऐसे सवाल हैं जिनके दायरे में कोई और नहीं बल्कि खुद पैरानॉर्मल इंवेस्टिगेटर गौरव तिवारी के घरवाले आ रहे हैं। उनके बदलते बयानों और चंद सवालों ने ही उनके दावों पर सवालिया निशान लगा दिया है। रहस्य के अंधेरे में भटकती पुलिस के हाथ तफ्तीश के दौरान कुछ और अहम सुराग लगे हैं। पहला सुराग 6 जुलाई का पुलिस को पता चला है कि इस दिन गौरव ने अपनी एक महिला मित्र के साथ देर रात करीब 3 बजे तक फेसबुक पर चैट की ये महिला पैरानॉर्मल सोसाइटी की वाईस प्रेसिडेंट बताई जा रही है। इस बात पर गौरव का अपनी पत्नी से झगड़ा भी हुआ था।  दूसरा सुराग 7 तारीख के लम्हों में कैद हुआ जब सुबह भी गौरव अपनी उसी दोस्त के साथ चैटिंग में मशगूल हो गया। सवाल ये कि इस महिला को लेकर गौरव और उसकी पत्नी के बीच झगड़ा क्यों हुआ? क्या गौरव की पत्नी को गौरव और महिला के सबंधों पर शक था। क्या यही तनाव मौत की वजह बना। बहरहाल पुलिस ने गौरव की उस महिला मित्र से भी कई घंटे तक पूछताछ की है। लेकिन फिलहाल कोई जानकारी मीडिया के साथ साझा नहीं की। सूत्रों के मुताबिक एक और सुराग गौरव की मौत का राज गहरा रहा है। वो ये कि 10 तारीख को गौरव का फेसबुक सुबह 5 बजे तक ऑन था। सवाल ये कि 7 जुलाई को गौरव की रहस्यमयी मौत के बाद भी उस अकाउंट को कौन इस्तेमाल कर रहा था और आखिर उसका मकसद क्या था। बेटे की मौत से घरवाले सदमें में हैं ये साफ है, लेकिन कुछ सवालों की तपिश उनके बयानों को झुलसा रही है। दरअसल गौरव के घरवालों ने पहले फोन पर पुलिस को बताया की गौरव बाथरूम में फिसल कर गिर गया था। बाद में उन्होंने बताया की गौरव ने बाथरूम में चुन्नी से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। इन बदले बयानों की नीयत भी अब शक के घेरे में है। वहीं मौका मुयाना में भी पुलिस को चुन्नी नहीं मिली जिससे गौरव के आत्महत्या करने का दावा किया गया था। तस्वीर का एक और बेजुबान गवाह है वो है ये बाथरूम। इसी में गौरव के सुसाइड करने की बात कही गई। घरवालों के इस दावे को खोखला कर रही है बाथरूम की ऊंचाई। उसकी छत इतनी ऊंची है ही नहीं की गौरव के कद का इंसान वहां फांसी लगा पाता। सवालों से घिरे घरवालों के दावों में सबूत तलाशने की नीयत से पुलिस ने करीब 8 घंटे तक गौरव की पत्नी से गहरी पूछताछ की, लेकिन सूत्रों के मुताबिक गौरव की पत्नी ने जांच में कोई सहयोग नहीं किया और पूरे वक्त सिर्फ आंसू बहाती रही। अब ये आंसू गम के थे या किसी अनजान खौफ के ये वक्त ही बताएगा।बरहाल गौरव की संदिग्ध मौत के बारे में जानकारी इकट्ठा करने के लिए गौरव की बहन से भी पूछताछ की गई है। अब पुलिस तीसरी आंख यानी अपार्टमेंट में लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाल रही है। कोशिश ये कि ये पता चल सके कि गौरव रात के 12 बजे से लेकर 1 बजे तक के बीच में कहां था। सच रहस्य में गुम है और तफ्तीश गुमशुदा जवाबों की तलाश में लगी है।

Share This Post

Post Comment