चित्तौड़गढ़ में बाढ़ के हालात

चित्तौड़गढ़, राजस्थान/सुरेंद्र सोनीः जिले में लगातार बारिश से बाढ़ के हालात हो गए हैं। कई बस्तियां हुई जलमग्न हो गई। भीलों की झोपडिय़ां में कई कच्चे मकान पानी में डूब गए हैं। मधुबन इलाके में भी घर से निकलना मुश्किल हो गया है। पानी के बहाव से गांधीनगर स्थित विद्या निकेतन स्कूल की दीवार टूट गई है। शहर में रविवार रात से जारी झमाझम बारिश का दौर सोमवार अल सुबह तक जारी है। रात 2.30 बजे आधा घंटा तेज मूसलाधार बारिश के बाद सुबह 5.30 बजे से करीब पौने एक घंटे तक फिर झमाझम बारिश हुई। इसके बाद भी बारिश जारी है। ये इस मानसून की सबसे तेज बारिश मानी जा रही है। बारिश से शहर के बीच बह रही गंभीरी नदी में पानी की लगातार आवक बढ़ रही है। गांधीनगर की कच्ची बस्ती जलमग्न होने से वहां लोगों को मदद की दरकार है। बेखबर प्रशासन फिलहाल मौके पर नहीं पहुंच पाया है। शहर में अप्सरा सिनेमा चौराहा, सुभाष चौक से किला रोड पर दो से ढाई फीट तक पानी भर गया है। चित्तौडग़ढ़-निम्बाहेड़ा मार्ग पर मधुवन कॉलोनी के पास सड़क पर करीब तीन फीट पानी भर गया। पुराने शहर के जूना बाजार में दुर्ग मार्ग से आने वाले पानी के कारण खटीक मोहल्ले व अन्य बस्तियों के घरों में पानी घुस गया है। शहर में रविवार रात भर से सोमवार सुबह तक जारी भारी बरसात के कारण कुछ स्कूलों में सोमवार को छुट्टी की घोषणा कर दी गई है। घरों में अखबार, दूध तक नहीं पहुंच पा रहे। दूसरी ओर, शहर के बीच बह रही गंभीरी नदी पूरे वेग से बह रही है। भारी बारिश के कारण चित्तौड़ में  गांधीनगर स्थित आकाशवाणी रोड पर वन विभाग की करीब 50 मीटर दीवार गिर गई। इससे सामने स्थित घरों में पानी घुस गया है। लोग परेशान हो गए हैं। गांधी नगर कच्ची बस्ती के लोगों को घरों में पानी घुस जाने से मदद की दरकार है।

Share This Post

Post Comment