अजमेर जिले के 30 हजार स्कूली बच्चों को मिलेगा पौष्टिक और गरमा गर्म भोजन

अजमेर, राजस्थान/नगर संवाददाताः मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के निर्देशों की पालना को लेकर अजमेर में अक्षय पात्र फाउण्डेशन और जिला प्रशासन के बीच एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए. मिड डे मील योजना के तहत अब अजमेर और पुष्कर की 106 स्कूलों के करीब 30 हजार बच्चों को अक्षय पात्र फाउण्डेशन के जरिए शुद्ध, पौष्टिक और गरमा गर्म भोजन मुहैया कराया जाएगा. अजमेर कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में शनिवार को शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी और महिला बाल विकास राज्यमंत्री अनीता भदेल की मौजूदगी में फाउण्डेशन पदाधिकारियों और जिला कलेक्टर ने एमओयू पर हस्ताक्षर किए. इससे पहले यह जिम्मेदारी नंदी फाउण्डेशन के पास थी, लेकिन गड़बड़ियों की शिकायत के बाद उससे करार रद्द कर दिया गया था. अक्षय पात्र फाउण्डेशन अजमेर के अलावा, भीलवाड़ा और उदयपुर में भी अपनी सेवाएं देने जा रहा है और वहां भी जल्द ही एमओयू किया जाएगा. शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने बताया कि भामाशाह सहयोग के 2 करोड़ की राशि हासिल हो गई है, जिसके जरिए केन्द्रीयकृत रसोई का तैयार कराया जाएगा और इस बार राज्य स्तरीय स्वाधीनता दिवस समारोह अजमेर में आयोजित होने के चलते मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की और से इसका लोकापर्ण उनके हाथों से होगा. इसके साथ ही अक्षय कलेवा योजना को भी नगर निगम के सहयोग से शुरु करवाए जाने पर सहमति बनी है, जिसके तहत अस्पतालों में मरीजों के परिजनों को भी इस फाउण्डेशन की ओर से भोजन उपलब्ध होगा.

Share This Post

Post Comment