रुड़की ब्लॉक में सरकारी स्कूलों के हालात जर्जर

हरिद्वार, उत्तराखंड/नगर संवाददाताः रुड़की ब्लॉक के जर्जर विद्यालयों में कभी भी बड़े हादसे हो सकते हैं. हांलाकि बरसात के मौसम में भवनों के गिरने का ज्यादा खतरा बना रहता है. जबकि स्कूलों की ओर से शिक्षा विभाग को कई बार अवगत करवाया जा चुका है लेकिन अधिकारियों का इस ओर नहीं जा रहा है. जिससे स्कूल में पढ़ रहे बच्चों के साथ कभी बड़ा हादसा हो सकता है. गौरतलब है कि रुड़की ब्लॉक में 18 से अधिक सरकारी स्कूलों के भवनों के हालत जर्जर हैं लेकिन शिक्षा विभाग की लापरवाही कई इन नौनीहालों पर भारी न पड़ जाए. बारिश के दिनों में छतों से पानी टपकता है. जिससे बच्चों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है. पिछले दिनों पुरानी तहसील स्थित विद्यालय नंबर 14 में एक बड़ा हादसा टल गया था फिर भी शिक्षा विभाग जर्जर भवनों की अनदेखी कर रहा है. विभाग के अधिकारियों को कहना है कि बजट नहीं होने के कारण भवनों की मम्मरत नहीं हो पा रही है. बच्चों के साथ कोई दुर्घटना ना घट जाए शिक्षा विभाग इसका इंतजार कर रहा है. आपको बता दें कि यदि रुड़की ब्लाक का ये हाल है तो हरिद्वार जिले के अन्य ब्लॉकों में सरकारी स्कूलों का क्या हाल होगा वही शिक्षा विभाग के अधिकारियों का कहना है इन भवनों का मूल्यांकन करने के बाद तुड़वाएं जाएंगे और आपदा प्रबंधन कोष से स्कूलों के जर्जर भवनों की मरम्मत के लिए बजट दिया जाएगा. इस मामले में उप शिक्षाधिकारी वृजपाल का कहना है कि यदि जो भवन ज्यादा जर्रज हालात में हैं उनसे बच्चों शिफ्ट करके पंचायत भवनों में पढ़ाने के आदेश दे किए गए हैं.

Share This Post

Post Comment