मध्य प्रदेश में बारिश का कहर, 15 की मौत, 20 हजार को किया गया रेस्क्यू

भोपाल, मध्यप्रदेश/नगर संवाददाताः मध्य प्रदेश में बारिश और बाढ़ का कहर जारी है. प्रदेश में अब तक 15 लोगों की की मौत हो गई और करीब 20 हजार लोगों को रेस्क्यू कर बचाया गया है. सामान्य से अधिक बारिश होने के कारण प्रदेश की सभी प्रमुख नदियां उफान पर हैं, जिससे गांव से लेकर शहरों में कई फीट पानी भर गया है. जानकारी के अनुसार, मध्य प्रदेश में बारिश और बाढ़ से जुड़ी घटनाओं में 15 लोगों की मौत हो गई. भोपाल शहर में शुक्रवार से 11 इंच से अधिक बारिश दर्ज की गई है. कई फीट पानी भर जाने से करीब 20,000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. भोपाल, हबीबगंज, इटारसी, जबलपुर, सागर और बीना स्टेशनों पर रेलवे पटरी डूब गई हैं. शहर के कई नीचले इलाकों में फंसे हुए लोगों को निकालने के लिए नौकाओं को काम पर लगाया गया है. बारिश ने जनजीवन को अस्त-व्यस्त कर दिया है. नदी-नालों में उफान आ गया है, पुल-पुलिया और बांधों के क्षतिग्रस्त होने से गांवों और शहरी बस्तियों में जलभराव हो रहा है. राहत और बचाव के लिए सेना, हेलीकॉप्टर और नावों की मदद लेनी पड़ रही है. राज्य की प्रमुख नदियां- नर्मदा, बेतवा, जामनी, धसान, सुनार, कोपरा, बीला, जमड़ार, टमस उफान पर आ गई हैं, जिससे कई इलाके डूब गए हैं. मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में प्रदेश के कई जिलों में भारी बारिश की चेतावनी देते हुए हाई अलर्ट जारी कर दिया है. वहीं बाढ़ और बारिश से हुए नुकसान को लेकर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को अफसरों के साथ मीटिंग ली. सीएम का कहना है कि बारिश से सबसे अधिक प्रभावित हुए रीवा, सागर, नरसिंहपुर और भोपाल में पानी उतरने लगा है, जिससे स्थिति जल्द सामान्य होने की संभावना है.

Share This Post

Post Comment