कोटा में रेलवे कर्मचारियों ने गोल्डन टेंपल और रणथम्भौर एक्सप्रेस ट्रेन के आगे किया प्रदर्शन

कोटा, राजस्थान/नगर संवाददताः कोटा रेल मंडल में ट्रेनों का परिचालन करने वाले रेल कर्मचारी ही अब ट्रेनों के आगे प्रदर्शन करने को मजबूर हो गए हैं. इनकी नाराजगी सातवां वेतन आयोग की सिफारिशों को लेकर है. सोमवार को केंद्र सरकार से खफा रेल कर्मचारियों ने रेलवे ट्रेड यूनियनों के पदाधिकारियों के समर्थन में गोल्डन टेम्पल मेल और रणथम्भौर एक्सप्रेस ट्रेन पर प्रदर्शन किया. इस दौरान डब्ल्यूसीआरएमएस से जुड़े हुए कुछ नाराज कर्मचारी तो नारेबाजी करते हुए रेल की पटरियों पर कूद गए और गोल्डन टेम्पल मेल के इंजन के आगे नारेबाजी करने लगे. 10 मिनट के ठहराव के बाद जैसे ही चालक ने हॉर्न बजाया तो पदाधिकारियों ने उन्हें समझाइश करके वापस प्लेटफार्म पर बुला लिया. प्रदर्शन के दौरान डब्ल्यूसीआरएमएस और डब्ल्यूसीआरईयू के पदाधिकारी शामिल थे. पदाधिकारियों का आरोप था कि सातवें वेतन आयोग कर्मचारियों के साथ धोखा है और उससे किसी भी कर्मचारी को लाभ नहीं है. इसकी सिफारिशों से तो रेल कर्मचारी को पहले से भी कम पगार प्राप्त करेगा, जिसको लेकर कर्मचारियों में रोष व्याप्त है और वह 11 जुलाई से अनिश्चितकालीन हड़ताल की तैयारी कर रहा है.

Share This Post

Post Comment