डाक घर की हालत खराब, डरते हुए काम करते हैं कर्मचारी

कांकेर, छत्तीसगढ़/नगर संवाददाताः कांकेर जिले का मुख्य डाक घर खराब हालत में है और अब मरम्मत नहीं होने के कारण धराशायी होने लगा है. पहली ही बारिश में मुख्य डाकघर का छज्जा गिर गया. गनीमत इस बात की रही कि कोई बड़ा हादसा नहीं हो पाया. 5 दिसंबर 1990 को बनकर तैयार भवन महज 26 साल में खराब होकर गिरने लगा. गिरते छज्जे और दरकती दीवारों के बीच काम करने वाले पोस्ट ऑफिस के कर्मचारी खुद को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं. पोस्ट मास्टर ने कई बार इसकी लिखित शिकायत जगदलपुर स्थित मुख्यालय से की है. बावजूद इसके जर्जर हो चुके भवन की मरम्मत करने जिम्मेदार अधिकारी ध्यान नहीं दिया जा रहे हैं. अगर समय रहते डाकघर की मरम्मत नहीं की गई तो कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है. गौरतलब है कि केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री रविशंकर प्रसाद डाक सेवाओं को और उन्नत बनाने की कोशिश कर रहे हैं. वहीं प्रशासनिक अधिकारी सरकारों की योजना को पलीता लगा रहे हैं.  सरकार डाक घरों को अब टिकट रिजर्ववेशन सेवाओं और अन्य सुविधाओं से लैस करने की तैयारी रही है. इसके अलावा उसके नेटवर्क का इस्तेमाल ई-कॉमर्स से भी करने का प्लान है.

Share This Post

Post Comment