पुलिस थाने में टॉर्चर के बाद चोरी के आरोपी ने किया सुसाइड

सिवनी, मध्य प्रदेश/नगर संवाददाताः मध्य प्रदेश के सिवनी मालवा में चोरी के मामले में सह-आरोपी ने पुलिस थाने में आत्महत्या कर ली. पुलिस गुरुवार शाम को आरोपी को पूछताछ के लिए थाने लाई थी. परिजनों ने पुलिस ने प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है. इस मामले में टीआई सहित तीन पुलिसकर्मियों को लाइन अटैच किया गया है. जानकारी के अनुसार, जयप्रकाश लौवंशी को पूछताछ के बाद लॉकअप में बंद करने के बजाए थाने में ही बैठाकर रखा था. इस दौरान पुलिसकर्मियों की नजर बचाकर जयप्रकाश ने गमछे से फंदा बनाकर थाने की खिड़की पर फांसी लगा ली. 48 वर्षीय जयप्रकाश की खुदकुशी के बाद परिजनों का आक्रोश फूट पड़ा. परिजनों के अलावा बड़ी संख्या में समाज के लोगों ने थाने का घेराव कर दिया. इलाके में भारी तनाव को देखते हुए तीन पुलिस थाने का बल तैनात किया गया है. मृतक के बेटे चिंटू ने बताया कि, उसके पिता को पांच दिन पहले भी पुलिस ने हिरासत में लिया था. चिंटू ने पुलिसकर्मियों पर 50 हजार रुपए रिश्वत मांगने का आरोप लगाया. चिंटू का यह भी आरोप है कि, पैसे नहीं देने पर उसके पिता को दूसरी बार पकड़कर थाने लाया गया, जहां उनकी उल्टा लटकाकर पिटाई की गई. उसने अपनी पिता की मौत को आत्महत्या न होकर हत्या का मामला बताया है. दरअसल, नंदरवाडा में नीलकमल उपाध्याय के यहां 4 लाख रुपए की चोरी हुई थी. पुलिस ने जांच के आधार पर सबसे पहले दिनेश लौवंशी को गिरफ्तार किया था. दिनेश ने पूछताछ में जयप्रकाश का नाम बताया था, जिसके बाद पुलिस ने उसे सह आरोपी बनाया था.

Share This Post

Post Comment