पेड़ गिराने पर एनजीटी ने दिए जांच के आदेश

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः राष्ट्रीय हरित अधिकरण ने पानी की निकासी के लिए नालियां बनाने के लिए पेड़ गिराने पर शुक्रवार को दक्षिण दिल्ली नगर निगम (एसडीएमसी) को आड़े हाथ लिया और दिल्ली सरकार के वन विभाग को एक सप्ताह में मुद्दे की जांच करने का निर्देश दिया।न्यायमूर्ति एसपी वांगड़ी की अध्यक्षता वाली पीठ ने नालियां बनाने के काम पर रोक नहीं लगाई जिसकी याचिकाकर्ता ने मांग की थी। हालांकि पीठ ने सार्वजनिक प्राधिकारों को पेड़ों के एक मीटर के दायरे में निर्माण और मरम्मत कार्य नहीं करने के अप्रैल 2013 में दिये गये आदेश का उल्लंघन करने पर एसडीएमसी की आलोचना की। एनजीटी ने पर्यावरण कार्यकर्ता और वकील आदित्य प्रसाद की याचिका पर आदेश जारी किया जिन्होंने कहा था कि एसडीएमसी न्यू फेंड्स कॉलोनी में सड़क किनारे खड़े पेड़ों की परवाह किये बिना नालियों के निर्माण के लिए गड्ढे खोद रहा है। पीठ ने कहा कि हम दिल्ली सरकार के वन विभाग को अपने संबंधित अधिकारी के माध्यम से मामले की जांच करने का निर्देश देते हैं और यह भी पता लगाने का निर्देश देते हैं कि क्या नुकसान हुआ है और हुआ है तो किस हद तक हुआ है। पीठ ने एक सप्ताह के भीतर रिपोर्ट जमा करने को कहा। मामले की अगली सुनवाई चार जुलाई को होगी। अधिकरण ने पहले एसडीएमसी के आयुक्त पुनीत कुमार गोयल को अप्रैल 2013 के आदेशों के उल्लंघन का हवाला देते हुए नोटिस जारी किया था।

Share This Post

Post Comment