बिजली गिरने से यूपी-बिहार में 96 लोगों की मौत

भागलपुर, बिहार/नगर संवाददाताः राहत वाली बारिश के साथ यूपी के कई हिस्सों में आफत बनकर आई है। यूपी बिहार और झारखंड में बिजली गिरने से 96 लोगों की मौत हो गई। यूपी में बिजली गिरने से 43 लोगों की जान चली गई। पूर्वांचल में मंगलवार को अलग-अलग जिलों में आकाशीय बिजली से 30 लोगों की मौत हो गई। बलिया में सबसे अधिक आठ लोगों ने दम तोड़ दिया। गाजीपुर में वज्रपात से छह लोगों की जान चली गई। गोरखपुर में बिजली गिरने से आठ लोगों की मौत हो गई। वहीं, लगातार दूसरे दिन कहीं रिमझिम तो कहीं झमाझम बारिश हुई। बारिश से खेतों में जान आने से धान की नर्सरी में तेजी आ गई है। विशेषज्ञों के अनुसार मानसून अब पूर्वी यूपी में सक्रिय हो गया है। अगले तीन-चार दिनों में व्यापक बारिश की संभावना है। बिहार में मंगलवार की शाम मानसून की पहली बारिश से भागलपुर, उत्तर बिहार, पूर्व बिहार, सीमांचल, कोसी, भोजपुर, नालंदा और सारण में लोगों को राहत मिली। इस दौरान बिजली गिरने से 46 लोगों की मौत हो गई और कई झुलस गए। आकाशीय बिजली से पटना में 4, रोहतास में 5, बक्सर में 3, भोजपुर में 2, औरंगाबाद में 4, नालंदा में 4, सारण में 3, कैमूर में 3, समस्तीपुर में 2, वाल्मीकिनगर में 1, भागलपुर में 2, सहरसा में 3, मधेपुरा में 1, मुंगेर में 2, पूर्णिया में 4 और कटिहार में 3 लोगों की मौत होने की सूचना है। रंका थाना क्षेत्र के बेलवादामर गांव निवासी कैलाश मांझी और शिवचरण उर्फ बिगु मांझी की करंट लगने से मौत हो गई। मंगलवार को पुलिस ने शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। उधर, चतरा के कुंदा थाना क्षेत्र के सिकिदाग पंचायत के हल्दीया टांड़ गांव में बिजली गिरने से एक ही परिवार के चार लोगों की मौत हो गई जबकि पांच अन्य घायल हो गए। मरने b

वाले सभी बैगा परहिया जाति के हैं।

Share This Post

Post Comment