गौचर भूमि पर से हटवाया तहसीलदार ने अतिक्रमण

गौचर भूमि पर से हटवाया तहसीलदार ने अतिक्रमण

जयपुर, राजस्थान/विकास कुमार शर्माः ग्राम गोविन्दगढ के नेशनल हाईवे पर कई सालो से गौचर भूमि पर चल रहे अतिक्रमण पर मंगलवार को तहसीलदार मनीष फौजदार ने खाली करवा कर गौचर भूमि को अतिक्रमण से मुक्त करवाया। जानकारी के अनुसार गोविन्दगढ ग्राम के खसरा नम्बर 1482 पर कई सालो से अतिक्रमणकारियो ने लगभग 8 बीघा भूमि पर कब्जा कर रखा था। जिसको कई बार प्रशासन ने खाली करवाने की सोची लेकिन हर बार असफलता हाथ लगी। मंगलवार को तहसीलदार के नेतुत्व मे तीन थाने व जयपुर के दो पुलिस दल के सहयोग से उक्त गौचर भूमि को मुक्त करवाया गया। वही जब मौके पर प्रशासन पहुॅचा तो उसको अतिक्रमणकारियो द्वारा विरोध झेलना पडा किन्तु बाद मे तहसीलदार व सरपंच गोपाल डेनवाल ने समझाईस कर मामले को शांत कर कार्यवाही चालु कर दी। कई सालो से चल रहे गौचर भूमि पर से अतिक्रमण हटाने के लिए प्रशासन को पुलिस का भारी जाब्ते की सहायता लेनी पडी । कार्यवाही के दौरान कालाडेरा, सामोद व गोविन्दगढ थाने की पुलिस के अलावा भी जयपुर से 2 गाडी अतिरिक्त जाब्ते की मौके पर रही । जैसे ही प्रशासन कार्यवाही करने के लिए मौके पर दल बल के साथ पहुॅचा। तो चर्चा आग की तरह पुरे गॉव मे फैल गई। और मौके पर ग्रामिणवासियो का तांता लग गया। इसी दौरान गौविन्दगढ गौ रक्षक दल के अध्यक्ष शेरसिंह कुमावत, प्रवक्ता कृष्णानंद सरस्वती, मुकेश सौकिल, लोकेश डेनवाल सहित मौके पर पहुॅच कर तहसीलदार व सरपंच आभार जताया। कुुमावत ने बताया कि इन भूमाफियाओ व गौचर अतिक्रमणकारियो के कारण आज गौ माता बेघरो की तरह घूम रही है। अगर सभी जगह गौचर भूमि पर से इसी तरह अतिक्रमण हटा दिया जावें। तो गायो की हो रही दुर्गती को रोका जा सकता है। सरपंच गोपाल डेनवाल ने बताया कि अतिक्रमण हटाने की यह चौथी कार्यवाही है और आगे भी इसी प्रकार राजनीति सोच से ऊपर उठकर अतिक्रमियों एवं भूमाफियाओं के खिलाफ दबंगाई से ही कार्यवाही की जावेगी |

Share This Post

Post Comment