आनन्दपाल गिरोह के दो कुख्यात इनामी अपराधियों सहित चार गिरफ्तार

सीकर, राजस्थान/सुरेंद्र सोनीः सीकर जिले की दो थाना पुलिस एवं क्यूआरटी टीम की तत्परता से आज आनन्दपाल गिरोह के दो ईनामी कुख्यात अपराधियों सहित चार को पकड़ने में सफलता हासिल हुई है। गिरफ्तार अपराधियों से भारी मात्रा में अवैध हथियार भी बरामद किये गये। पुलिस अधीक्षक जिला सीकर अखिलेश कुमार ने बताया कि आज मंगलवार को सूत्र सूचना प्राप्त हुई कि थाना सदर सीकर पर दर्ज प्रकरण में मुख्य रूप से वांछित अभियुक्त विजयपाल, जो कि थाना सदर सीकर का हिस्ट्रीशीटर अपराधी भी है, अपने अपराधिक साथियों के साथ स्कार्पिओ गाड़ी द्वारा रामू का बस चौराहे से बाजौर होकर श्यामपुरा पिपराली की तरफ जायेंगे। उक्त सूचना पर पुलिस अधीक्षक जिला सीकर के आदेशानुसार जिला नियंत्रण कक्ष के माध्यम से समस्त जिला में ’ए’ श्रेणी की नाकाबंदी करवायी तथा थानाधिकारी सदर सीकर मदन कड़वासरा पुलिस निरीक्षक मय टीम थाना से रवाना होकर पिपराली से श्यामपुरा की ओर रवाना हुए एवं दूसरी तरफ से थानाधिकारी कोतवाली सीकर रमेष माचरा पुलिस निरीक्षक मय क्यूआरटी टीम बाजौर की तरफ से रवाना हुए। अखिलेश कुमार ने बताया कि सूचना के अनुसार पिपराली से चार-पांच किलोमीटर आगे चलते ही स्कार्पिओ गाड़ी सामने से आते हुई दिखायी दी, जिसने सामने से पुलिस वाहन को आता देखकर पीछे की ओर गाड़ी कर वापिस भागने की कोशिश की, परन्तु पीछे से भी रमेष माचरा पुलिस निरीक्षक थानाधिकारी कोतवाली सीकर के नेतृत्व में क्यू.आर.टी. की पुलिस पार्टी थी तथा सामने से थानाधिकारी सदर सीकर मदन कड़वासरा पुलिस निरीक्षक ने पुलिस की गाड़ी आगे लगा दी। जिस पर स्कार्पिओ से दो आदमी उतरकर खेतों की तरफ भागे और दो आदमियों को गाड़ी में बैठे हुए को थानाधिकारी सदर सीकर व पुलिसकर्मियों ने घेरा देकर पकड़ा तथा खेतों की तरफ भागे हुए दो व्यक्तियों के पीछे संत कुमार व श्री सुभाष भागे, जिनको पीछे आता देख उन्होंने पिस्टल दिखाकर गोली मारने की धमकी दी, जिस पर पुलिसकर्मियों ने सुरक्षा पूर्ण तरीके से उनकी जान को बचाते हुए हवाई फायर किये, जिस पर दोनों व्यक्ति हथियार दिखाकर भागने लगे, जिनको साहस पूर्ण तरीके से सिपाहियों ने पीछा कर पकड़ा। कुमार ने बताया कि इस प्रकार चारों व्यक्ति को पकड़कर तलाशी ली तो तलाशी में बरेटा पिस्टल यूएसए मेड एक मय 9 एमएम के 24 कारतूस, 12 बोर (डबल बैरल) शार्ट बट-एक मय 39 कारतूस, 7.65 एमएम पिस्टल एक मय 6 कारतूस, 315 बोर डबल बैरल बन्दुक एक मय 48 कारतूस को बरामद किये तथा वाहन की तलाषी में चार अलग-अलग नंबर की वाहन नम्बर प्लेट बरामद हुई। उन्होने बताया कि गिरफ्तार किये गये व्यक्तियों का नाम-पता मालुम करने पर सुभाष पुत्र हरफूल सिंह जाट उम्र 30 साल निवासी बराल थाना रानोली जो कि कुख्यात अपराधी आनन्दपाल सिंह के साथ 3 सितम्बर, 2015 को अजमेर हाई सिक्योरिटी जेल से डीडवाना न्यायालय में चालानी गार्ड द्वारा पेशी से वापसी के दौरान अपने साथी अपराधियों के माध्यम से पुलिस वाहन पर फायरिंग कर पुलिसकर्मियों को घायल कर फरार हो गया था, जिस पर पुलिस मुख्यालय द्वारा पचास हजार रूपये का ईनाम घोषित है। अखिलेश कुमार ने बताया कि हनुमान सिंह पुत्र जगदीश सिंह जाति राजपूत उम्र 32 साल निवासी चक 14 डीपीएन गोगामेडी जिला हनुमानगढ़ भी थाना परबतसर जिला नागौर में अध्यापक के हत्याकाण्ड, गनोड़ा चुरू में सैल्समैन हत्याकाण्ड व सुजागढ़ चुरू में सीताराम हत्याकाण्ड में वांछित था। हनुमान सिंह गैंग में शामिल होने के बाद अभी तक गिरफ्तार नहीं हुआ तथा आनन्दपाल को भगाकर ले जाने वाले वाहन का चालक भी यही था। जिसकी गिरफ्तारी पर महानिरीक्षक पुलिस अजमेर रेंज द्वारा दस हजार रूपये का ईनाम घोषित है। कुमार ने बताया कि विजयपाल पुत्र मेवाराम जाति जाट उम्र 30 साल निवासी चन्दपुरा थाना सदर सीकर पुलिस थाना सदर सीकर का हिस्ट्रीशीट अपराधी है तथा प्रकरण संख्या 80/16 अंतर्गत धारा 307 भा.दं.सं. व 7/27 आर्म्स एक्ट में वांछित था। इसके अतिरिक्त प्रदीप पुत्र नानुराम जाति बलाई उम्र 19 साल निवासी बराल थाना रानोली को भी गिरफ्तार किया गया।

Share This Post

Post Comment