शिव सेवा संस्थान ने लाचार पिता के पुत्री की करवायी शादी

जौनपुर, युपी/अंकुर गुप्ताः बिटिया के लिये घर पर बारात आने वाली हो और उसी बेटी का पिता उसी सुबह मरने की सोच रहा हो तो जाहिर है कि वह किसी गम्भीर समस्या से पीड़ित होगा। ऐसा है पीड़ित व्यक्ति नगर के सिटी रेलवे स्टेशन के पास स्थित सैदनपुर निवासी पप्पू मौर्या है जिसके घर रात में बेटी की बारात आने वाली थी और वह सुबह शाही पुल के पास बैठकर आत्महत्या की सोच रहा था। फिलहाल यहां शिव सेवा संस्थान के साथ आस-पास के आभूषण व्यवसाइयों ने मदद के लिये हाथ बढ़ा दिया। मालूम हो कि पप्पू मौर्या नगर के चहारसू चौराहे के पास रोते हुये मिला जिसको देखकर काफी लोग जुट गये जहां पूछने पर उसने बताया कि उसके पास 3 लड़की व 2 लड़के हैं जिन्हें वह मेहनत-मजदूरी करके पढ़ा-लिखा रहा है। सामाजिक रीति-रिवाज को देखते हुये वह अपनी बड़ी पुत्री की शादी तय कर दिया लेकिन परिस्थितियां उसके विपरीत हो गयीं। इससे वह हताश होकर आज आत्महत्या करने के लिये घर से निकला है। इस पर तूतीपुर निवासी कन्हैया सेठ व प्रदीप ने सारी स्थिति को समझते हुये शिव सेवा संस्थानम् के संस्थापक स्वामी अम्बुजानन्द जी महाराज को बताया जिस पर कुछ लोग सैदनपुर जाकर पप्पू मौर्या की स्थिति का जायजा लिये। स्थिति सही पाये जाने पर स्वामी जी के नेतृत्व में अध्यक्ष विमल सिंह, कन्हैया सेठ, चन्दन सेठ, सूरज सेठ, मनीष सेठ, पवन शर्मा, विजय चौरसिया, सुमित साहू सहित अन्य कार्यकर्ता व आभूषण व्यवसायी पीड़ित की पुत्री की शादी का सारा खर्च उठा लिये। बीती रात को शादी सकुशल सम्पन्न हो गयी जहां उपरोक्त के अलावा राधेश्याम सेठ, राम पलट मौर्य, अजय सेठ, अरविन्द सेठ, गुड्डू सेठ, शशांक श्रीवास्तव, अनमोल साहू सहित अन्य ने अपना सहयोग प्रदान किया। एक लाचार व निरीह पिता के पुत्री की शादी ऐन वक्त पर खड़े होकर कराने वाली संस्था शिव सेवा संस्थान सहित आभूषण व्यवसाइयों के इस कदम की ओर चर्चा है।

Share This Post

Post Comment