ड्राइवर और डाॅक्टर में हाथापाई

अंतर्राष्ट्रीय/नगर संवाददाताः 30 वर्षीय रामकिशन अस्पताल के न्यूरोलॉजिस्ट विभाग में चार वर्षों से रेसिडेट डॉक्टर थी और उसकी कैब में तोड़फोड़ करती बताई जा  रही हैं। वह बिना रिजर्वेशन के ही कैब में बैठ गई थी। जब ड्राइवर ने उसे उतरने को कहा तो वह हंगामा करने लगी और कई बार ड्राइवर के साथ हाथापाई की। इसके बाद वह ड्राइवर की बगल वाली सीट पर जा बैठी और कार में रखा सारा सामान बाहर फेंकने लगी। ड्राइवर की कॉल के बाद पुलिस ने वहां पहुंच कर मामले को संभाला। यह घटना सामने आने के बाद करीब 70 लाख बार इसे देखा जा चुका है और इसे लेकर लोगों ने खासी नाराजगी जाहिर की थी। हालांकि इस मामले में ड्राइवर ने कोई शिकायत दर्ज नहीं कराई। वहीं रामकिशन ने एक इंटरव्यू में अपनी हरकत के लिए माफी मांगी थी और कहा था कि उस दिन जो भी हुआ, वह उसके लिए काफी शर्मिंदा हैं।

Share This Post

Post Comment