दिव्य ज्योति जागृति संस्थान द्वारा कन्या भ्रूण हत्या के विरुद्ध, वार्षिक राष्ट्र स्तरीय जागरूकता अभियान ‘तू है शक्ति’ का भव्य उद्घाटन

दिव्य ज्योति जागृति संस्थान द्वारा कन्या भ्रूण हत्या के विरुद्ध, वार्षिक राष्ट्र स्तरीय जागरूकता अभियान ‘तू है शक्ति’ का भव्य उद्घाटन

IMG_0380 IMG_0382

दिल्ली/अरविंद यादवः श्री आशुतोष महाराज जी के दिव्य मार्ग दर्शन में संचालित दिव्य ज्योति जागृति संस्थान के लिंग समानता प्रकल्प– संतुलन के अंतर्गत कन्या भ्रूण हत्या की रोकथाम के लिए 27 मार्च 2016 को मुख्य अतिथि आदरणीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री जे. पी. नड्डा द्वारा सिरी फोर्ट ऑडिटोरियम में वार्षिक राष्ट्र स्तरीय जागरूकता अभियान ‘तू है शक्ति’ का उद्घाटन किया गया.‘तू है शक्ति’ मुहिम का क्रियान्वयन गाँव, जिला, शहर इत्यादि मिला कर भारत के 8 राज्यों – हरयाणा, उत्तर प्रदेश, पंजाब, दिल्ली, राजस्थान, उत्तराखंड, महाराष्ट्र व मध्य प्रदेश के तकरीबन 6000 क्षेत्रों में 77 केंद्रीय स्थानों से किया जाएगा. प्रत्येक राज्य से 1 महिला प्रतिनिधि का एम्बेसडर के रूप में चयन किया गया है जो इस कार्य को अन्य 25000 कार्यकर्ताओं के सहयोग से अपने राज्य में कार्यान्वित करेंगे तथा कन्या भ्रूण हत्या की रोकथाम के सन्देश को लाखों लोगों तक लेकर जाएँगे.

इस विशाल समारोह का आरम्भ दिव्य भजन, श्रीमद् देवी भागवत महापुराण के पावन दृष्टान्तों के उद्धरण से सुसज्जितशिक्षाप्रद व्याख्यान व माँ शक्ति के एक आदर्श नारी के रूप में वर्णनद्वारा किया गया. कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हुए श्री आशुतोष महाराज जी की शिष्या व संतुलन प्रकल्प की प्रभारी साध्वी दीपिका भारती जी ने अखिल भारतीय अभियान ‘तू है शक्ति’ के लक्ष्य तथा कार्यान्वयन की प्रयोजना के विषय में श्रोतागणों को बताया. उदाहरणों व पूर्वाग्रह मिथकों के स्पष्टीकरण के माध्यम से उन्होंने कन्या भ्रूण हत्या के कारण महिलाओं के खिलाफ समाज में बढ़ रहे अपराधों व महिलाओं के गिरते स्तर के प्रसंग पर प्रकाश डाला. साथ ही उन्होंने संस्थान के संस्थापक एवं संचालक श्री आशुतोष महाराज जी के, आध्यात्मिक जागृति द्वारा महिलाओं की खोई हुई गरिमा की पुनर्स्थापना की विचारधारा का भी वर्णन किया.

सभा में उपस्थित मुख्य अतिथि केंद्रीय मंत्रिमंडल के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री माननीय श्री जे. पी. नड्डा जी द्वारा’तू है शक्ति’ अभियान का उद्घाटन किया गया; जिसके पश्चात‘तू है शक्ति’ अभियान को समर्पित एक विशेष गीत पर संतुलन के कार्यकर्ताओं द्वारा महिलाओं की दुर्दशा का उल्लेखन करते हुएएक विशेष नृत्यनाटक का प्रदर्शन किया गया.माननीय सांसद श्री महेश गिरी जी ने सामाजिक कुरीतियों के खंडन हेतु युवा जागरण की बात की. इसके पश्चात माननीय श्री जे. पी. नड्डा जी ने ‘तू है शक्ति’ अभियान की विभिन्न राज्य स्तरीय प्रतिनिधियों को ‘संकल्प पत्र’ प्रदान किये. सभी महिला एम्बेसडरों ने इस अभियान के अंतर्गत निर्धारित उद्देश्य के लिए सक्रिय रूप से कार्यरत रहने की शपथ ली. मुख्य अतिथि माननीय श्री जे. पी. नड्डा जी ने इसके उपरान्त अपने वक्तव्य में कन्या भ्रूण हत्या की समस्या के कारण बढ़ते अपराध व महिलाओं की सामाजिक स्तिथि के सन्दर्भ में अपने विचारों को व्यक्त किया.

नारी की शक्ति व क्षमता, तथा सामाजिक कुरीतियों व अपराधों के खिलाफ अनुदारता का प्रदर्शन करते नृत्यनाटक ‘महिषासुर मर्दिनी’का मंचन हुआ. महिषासुर मर्दिनी में दर्शाई गयी मिथ्याओं व उनके स्पष्टीकरण ने दर्शकगणों को मंत्रमुग्ध कर दिया.

संस्थान के सचिव स्वामी नरेन्द्रानंद जी ने सभी डॉक्टर, एडवोकेट, जज, साइंटिस्ट, कॉलेज प्रतिनिधिमंडलों व अन्य उपस्थितगणों के प्रति आभार व्यक्त किया तथा मुख्य अतिथि व अन्य सम्मानीय अतिथियों को स्मृति चिह्न देकर उनका अभिनन्दन किया.

अंत में कन्या भ्रूण हत्या व संस्थान द्वारा इस सन्दर्भ में संचालित कार्यक्रमों की जागरूकता प्रदर्शनी का आयोजन किया गया. संस्थान द्वारा महिलाओं को आत्मिक स्तर पर जागरूक किया जा रहा है तथा उनके समग्र सशक्तिकरण के लिए गतिविधियाँ चलायी जा रही हैं.

दिव्य ज्योति जागृति संस्थान एक सामाजिक आध्यात्मिक संस्था है जिसका ध्येय है – आध्यात्मिक जागृति द्वारा विश्व में शान्ति. संस्थान द्वारा नशा मुक्ति, अभावग्रस्त बच्चों की शिक्षार्थ, महिलाओं के सशक्तिकरण, पर्यावरण संरक्षण हेतु, गो संरक्षण, संवर्धन एवं नस्ल सुधार, समाज के सम्पूर्ण स्वास्थ्य, आपदा प्रबंधन तथा नेत्रहीनो, अपाहिजों के सशक्तिकरण के साथ साथ जेल के कैदी बंधुओं के लिए भी समाज कल्याण के प्रकल्प चलाये जा रहे हैं.

Share This Post

Post Comment