सोमनाथ की सुरक्षा के बारे मे उपरी पुलिस अधिकारी का मौन

जूनागढ़, गुजरात/गोपारामः सोमनाथ मंदिर के उपर आतंकी छाया मंडरा रही है। इसलिए शिवरात्री के वक्त स्पेशल एन.एस.जी. कमान्डो की फौज तैनात की गयी थी। जब की बाद मे वो फौज हटा दी गयी है। लेकिन अब तक सोमनाथ की सुरक्षा व्यवस्था बहुत ही कड़ी है। इनके बारे मे बहुत ही भारी गुप्तता है। इस मामले मे उपरी पुलिस अधिकारी भी मौन है। सोमनाथ मंदिर के उपर ऐटैक करने आए हुए 10 आतंकी मे से 3 को मार दिए थे, और 7 अभी भी फरार है। इसीलीये सोमनाथ की सुरक्षा व्यवस्था अभी तक कडक रखी गइ है। यहा तैनात सुरक्षा ऐजेन्सी और पुलिस स्टाफ को हाइ-ऐलटॅ पर रखा है। गुजरात मे आये हुए सोमनाथ के अलावा द्वारीका, अंबाजी, जैसी जगह पर आतंकी अटैक होने की दहशत के कारण सरकार द्वारा हर एक स्थल पर कडक बंदोबस्त तैनात करने का आदेश दिये गये थे। सोमनाथ मंदिर पर महाशिवरात्री के दिन एन.एस.जी कमान्डो की फौज तैनात की गइ थी। साथ मे बोम्ब स्कोव्ड और डोग स्कोव्ड के द्वारा चेकिंग किया गया था। अब एन.एस.जी कमान्डो हटा दिये है। लेकीन अभी भी अटैक का खतरा टला नहीं है इस कारण सोमनाथ की सुरक्षा को हाई ऐलटॅ पर ही रखी है ऐसा सोमनाथ के डि.वाय.ऐस.पी. सोलंकी साहेब ने बताया है। सोमनाथ की सुरक्षा के लिए कितनी ऐजेन्सी और कितने जवान तैनात है इस बारे मे पुलिस अधिकारी मौन है। सुरक्षा के बारे मे भारी गुप्तता रखी गइ है।

Share This Post

Post Comment