गर्भकुंड का निर्माण न होने से ग्रामीणों में रोष

रूद्र प्रयाग, उत्तराखंड/नगर संवाददाताः गौरीकुंड में स्थित गर्भकुंड का निर्माण न होने से ग्रामीणों में रोष पैदा हो गया है। उन्होंने कहा है कि केदारनाथ आपदा को ढाई वर्ष से भी अधिक समय हो गया है लेकिन अभी तक क्षतिग्रस्त गौरीकुंड का निर्माण नहीं हो पाया है। सरकार की लापरवाही तथा विधायक एवं सांसद द्वारा सुनवाई न होने के कारण ग्रामणों में रोष बढ़ता ही जा रहा है। क्योंकि कुंड का निर्माण न होने के कारण ग्रामीणों का रोजगार छिन रहा है।

Share This Post

Post Comment