उच्च योग्य अध्यापकों को भी लैक्चररों के लिए चुना जाए

गुरदासपुर, पंजाब/चरणदासः पंजाब सरकार द्वारा बीते महीने मास्टर कांडर से सभी विषयों के मास्टरों को लैक्चरार पदउन्नत किया गया। जिस में जिन अध्यापकों ने अपने सेवाकाल में एमए की डिग्री विश्वविद्यालयों से पास ओर ही उनकी शिक्षा विभाग में 07 साल की सेवा भी पूरी कर ली है। परंतु पंजाब शिक्षा विभाग ने लैक्चरारों की मैरिट सूची तैयार करते समय उन अध्यापकों को नजर अंदाज कर दिया जिन्होंने सेवाकाल में भर्ती होने से पहले ही 10-15 साल एमए की डिग्री कर रखी थी अब भर्ती होने के बाद अब 07 साल की लैक्चरार बनने की प्रमोशन चैनल भी क्लीयर करते है। परंतु शिक्षा विभाग ने इन अध्यापकों को अनदेखा करते हुए जिन अद्यापकों ने शिक्षा विभाग मे भर्ती होने के बाद एमए डिग्री पास की है। उनको मास्टर कैडर से लैक्चर बना कर जिन अध्यापकों ने 10-15 साल पहले मास्टर डिग्री पास की है। उनके अंदर निराशा पैदा करके रख दी है।

Share This Post

Post Comment