कुलपति डॉ. अनुला मौर्य को मिला अंतर्राष्ट्रीय महिला सम्मान

जयपुर, जगदीश कुमावत: जगद्गुरु रामानंदाचार्य राजस्थान संस्कृत विश्‍वविद्यालय की कुलपति डॉ. अनुला मौर्य को संस्कृत भाषा में निहित ज्ञान.विज्ञान को फैलाकर भारतीय संस्कृति और भारतीय भाषाओं के विकास के दिए गए योगदान के लिए रविवार को अंतर्राष्ट्रीय असाधारण महिला सम्मान से सम्मानित किया गया। स्विटजरलैंड के जिनेवा में हुए समारोह में डॉ. मौर्य को यह सम्मान इंटनरेशनल वुमेन्स क्लब की अध्यक्ष मिशेल बोउलाडे ने प्रदान किया। कार्यक्रम वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए हुआ। इस अवसर पर सम्मानित करते हुए हुए बोउलाडे ने कहा कि विश्व की पुरातन भाषा संस्कृत को आगे बढ़ाने के साथ ही शास्त्रों के अध्ययन और अध्यापन में डॉ. अनुला मौर्य की भूमिका काफी महत्त्वपूर्ण है। गौरतलब है कि डॉ. मौर्य अगस्त, 2019 से जगद्गुरु रामानंदाचार्य राजस्थान संस्कृत विश्‍वविद्यालय की कुलपति के रूप में कार्य कर रही हैं। डॉ. मौर्य ने अनेक नवाचार करते हुए संस्कृत विश्वविद्यालय कई नए पाठ्यक्रम शुरू किए हैं।

Share This Post